Bihar Gangajal Aapurti Yojana 2023: जाने लाभ, कार्यान्वयन प्रक्रिया व उद्देश्य

Bihar Gangajal Aapurti Yojana 2023 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | गंगा जल आपूर्ति योजना लाभ | Gangajal Aapurti Yojana कार्यान्वयन प्रक्रिया व उद्देश्य

हाल ही में दिसंबर 2019 में बिहार कैबिनेट की एक विशेष बैठक को आयोजित किया गया था जिसकी अध्यक्षता माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी ने की थी इस बैठक के अंतर्गत गंगा जलापूर्ति परियोजना को मंजूरी प्रदान करने का कार्य किया गया था इसके बाद बिहार सरकार के द्वारा बिहार गंगा जलापूर्ति योजना का शुभारंभ किया गया या Bihar Gangajal Aapurti Yojana बिहार के उन इलाकों के लिए विशेष तौर पर संचालित की जा रही है जहां पर सूखाग्रस्त पड़ा हुआ है और वहां के निवासियों को व्यवस्थित रूप से जल्द का साधन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है आज इस लेख के माध्यम से हम आपको योजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करेंगे लाभ उद्देश्य से भी संबंधित जानकारियों से अवगत कराएंगे।

Bihar Gangajal Aapurti Yojana 2023

बिहार गंगा जल आपूर्ति योजना की शुरुआत 27 नवंबर 2022 को नालंदा जिले में माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा की गई थी इसके माध्यम से गंगा नदी के अधिशेष जल को दक्षिण बिहार में स्थित जल संकट वाले सभी शहरों को पेयजल व्यवस्थित रूप से उपलब्ध कराया जा सके और देश में पहली बार ऐसा होगा कि गंगा नदी के बाढ़ के पानी को पेयजल के रूप में परिवर्तित करने का कार्य किया जाएगा इसके माध्यम से बिहार राज्य के लगभग 7.5 लाख नागरिकों को लाभ प्रदान किया जा सकेगा और आने वाले समय में इस योजना के माध्यम से लगभग 25 लाख नागरिकों को लाभ पहुंचाने का लक्ष्य भी रखा गया है और जितना भी गंगा नदी का पानी बाढ़ से बढ़ेगा उसे तीन विशाल जलाशय में संग्रहित किया जाएगा जिसे उपचार संयंत्र से उपचारित करके आसानी से नागरिकों तक पहुंचाया जा सकेगा।

Bihar Gangajal Aapurti Yojana 2023
Ganga Apurti

बिहार गंगा जल आपूर्ति योजना का उद्देश्य

बिहार सरकार की तरफ से शुरू की गई Bihar Gangajal Aapurti Yojana का मुख्य उद्देश्य यह है कि राज्य के जितने भी जल संकट ग्रस्त इलाके हैं उन्हें गंगा का पानी उपलब्ध करवाया जा सके जो कि गंगा में आई बाढ़ के पानी को उपचारित कर के नागरिकों को पेयजल के रूप में उपलब्ध कराने का कार्य किया जाएगा जिससे राज्य में पेयजल की समस्या को दूर किया जा सके और नागरिकों को एक बेहतर जीवन उपलब्ध करवाया जा सके इसके लिए प्रतिदिन एक व्यक्ति पर 165 लीटर जल की प्राप्ति हो सकेगी।

वैसे देखा जाए तो बिहार पर्यटक की दृष्टि से भी काफी ज्यादा सक्रिय राज्य माना जाता है क्योंकि यहां पर गया और बोधगया जैसे धार्मिक क्षेत्रों में सालाना लाखों की संख्या में पर्यटक भ्रमण करने आते हैं और ऐसे में इन दोनों क्षेत्रों में गर्मी के दिनों में काफी ज्यादा जल संकट देखने को मिलता है इसलिए यहां पर विशेष रूप से जल संकट की समस्या को दूर करने का कार्य किया जाएगा।

यह भी पढ़े: जल जीवन हरियाली योजना

Bihar Gangajal Aapurti Yojana Highlights

योजनाबिहार गंगा जल आपूर्ति योजना 2023
शुरुवात27 November 2022
शुभारंभबिहार राज्य के माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के सभी नागरिक जो जल संकट इलाकों में निवास करते हैं
उद्देश्यराज्य में सूखाग्रस्त क्षेत्रों में जलापूर्ति करना
लक्ष्य25 लाख लोगों को इस योजना का लाभ पहुंचाना
प्रभावित क्षेत्रदक्षिण बिहार के जल संकट वाले जिले
आधिकारिक वेबसाइट Click Here

Bihar Gangajal Aapurti Yojana का लाभ एवम विशेषताएं

  • बिहार राज्य के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा गंगा जल आपूर्ति योजना का संचालन किया जा रहा है।
  • योजना के माध्यम से गंगा नदी के अधिशेष जल को दक्षिण बिहार के उन शहरों में उपलब्ध कराया जाएगा जहां जल संकट बना रहता है।
  • देश में पहली बार ऐसा होगा कि किसी योजना के द्वारा गंगा नदी के बाढ़ के पानी को पेयजल के रूप में परिवर्तित करने का कार्य किया जाएगा।
  • योजना के शुरू होने से लगभग 7.5 लाख नागरिकों को लाभ प्राप्त होगा।
  • आने वाले समय में इस योजना के कार्य क्षेत्र को बढ़ाकर राज्य के लगभग 25 लाख लोगों को इसका लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • गंगा नदी के बाढ़ के पानी को 3 बड़े बड़े जलाशयों में संग्रहित किया जाएगा।
  • बाढ़ के सभी पानी को जल उपचार संयंत्र से उपचारित कर के नागरिकों तक व्यवस्थित रूप से पहुंचाने का कार्य किया जाएगा।
  • Bihar Gangajal Aapurti Yojana 2023 का कार्यान्वयन Engineering & Infrastructure Limited द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना के द्वारा राज्य के एक व्यक्ति को प्रतिदिन 165 लीटर जल की आपूर्ति की जाएगी।
  • गंगा के जल को पाइप लाइन के द्वारा नालंदा नवादा और गया तक पहुंचाने का कार्य किया जाएगा।
  • विशेष रूप से इन तीनों जिलों में पानी को एकत्रित करने के लिए डैम का भी निर्माण कराया जाएगा।
  • डैम के अंतर्गत पानी को शुद्ध करने के बाद ही नागरिकों तक इसे आपूर्ति किया जाएगा।
बिहार गंगाजल आपूर्ति योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया से संबंधित जानकारी

बिहार सरकार की तरफ से शुरू की गई Bihar Gangajal Aapurti Yojana के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया से संबंधित अभी कोई विशेष प्रकार की जानकारी प्राप्त नहीं हो पाई है वैसे यदि देखा जाए तो सरकार के द्वारा इस योजना का लाभ सीधे तौर पर सभी जिलों में उपलब्ध कराया जाएगा जहां पर व्यवस्थित रूप से जल संकट देखने को मिलता है परंतु वर्तमान समय में इस योजना के शुरू करने के साथ ही साथ नालंदा, नवादा और गया के नागरिकों को लाभ प्रदान करने का कार्य किया जाएगा और आने वाले समय में यह संपूर्ण बिहार के नागरिकों को विशेष तौर पर लाभान्वित करने का कार्य करेगी।

Leave a Comment