|Kisan Nyay Yojana | राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2021- ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लाभार्थी सूची

किसान न्याय योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | CG Kisan Nyay Yojana Online Application Form | राजीव गांधी किसान न्याय योजना लाभार्थी सूची |

छत्तीसगढ़ के किसानों को उनकी धान की फसल पर लाभ पहुंचाने के लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना को आरंभ किया गया। इस योजना को आरंभ करने की घोषणा वित्त मंत्री द्वारा विधानसभा में 2020-21 का बजट पेश करते हुए की गई। इसी योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा किसानों को धान के समर्थन मूल्य के अंतर की राशि प्रदान की जाएगी। तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रही हैं जैसे इस योजना का उद्देश्य क्या है, इसके लाभ क्या है, आवेदन के लिए पात्रता क्या है तथा आवेदन की प्रक्रिया क्या है। आपसे निवेदन है कि Kisan Nyay Yojana से जुड़ी पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी इस लेख को अंत तक पढ़ें।

Kisan Nyay Yojana

इस योजना को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा किसानों को उनकी फसल पर समर्थन मूल्य की राशि प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए 5100 करोड़ रुपए बजट निर्धारित कर दिया गया है। इस योजना को विधानसभा द्वारा मंजूरी मिलते ही शेष राशि प्रदान करने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा। Kisan Nyay Yojana ऐसीका लाभ प्रदेश के प्रत्येक किसान को प्रदान किया जाएगा यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको किसान न्याय योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार आएगा।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना

किसान न्याय योजना की चौथी किस्त

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा 21 मार्च 2021 को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत चौथी किस्त जारी कर दी गई है। 1104 करोड़ 27 लाख रुपए की कृष्ण लगभग 18 लाख 53 हजार पात्र किसानों को जारी की गई है। अब तक इस योजना के अंतर्गत 4500 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। इस योजना के अंतर्गत 1500 करोड़ रुपए की पहली किस्त 21 मई 2020 को प्रदान की गई थी, 1500 करोड़ रुपए की दूसरी किस्त 20 अगस्त 2020 को दी गई थी, इस योजना के अंतर्गत 1500 रुपए की तीसरी किस्त नवंबर 2020 में प्रदान की गई थी तथा इस योजना के आखिरी में चौथी किस्त 21 मार्च 2021 को लाभार्थी के बैंक खातों में हस्तांतरित की गई।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के मुख्य तथ्य

योजना का नामराजीव गांधी किसान न्याय योजना
किसके द्वारा शुरू की गईछत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा
आरंभ वर्षवर्ष 2020
योजना का उद्देश्यकिसानों को धान की अंतर की राशि प्रदान करना
योजना का लाभआर्थिक स्थिति में सुधार आना
कुल बजट5100 करोड़ रुपए
आवेदन के लिए पात्रताऑनलाइन/ ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटअभी आरंभ नहीं की गई

किसान योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सब जानते हैं कि हमारे देश के किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य न प्राप्त होने पर कमजोर आर्थिक स्थिति का सामना करना पड़ता है और ऐसे में वह अपने परिवार का भरण पोषण आसानी से नहीं कर पाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री जी के द्वारा राजीव गांधी किसान निधि योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों को उनकी धान पर समर्थन मूल्य राशि प्रदान की जाएगी जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में काफी सुधार आएगा। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगे तथा उन्हें कमजोर आर्थिक स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा।

पंजीकरण की सीमा में बढ़ोतरी

सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत पंजीकरण की सीमा को बढ़ा दिया गया है। इस योजना के अंतर्गत पहले आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जनवरी 2021 थी जिसे कृषि विकास किसान कल्याण एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा बढ़ाकर 28 फरवरी 2021 कर दिया गया है। यदि राज्य के इच्छुक लाभार्थियों ने इस योजना के अंतर्गत अभी तक आवेदन नहीं करवाया है वह जल्द से जल्द इस योजना मैं आवेदन कर सकते हैं।

  • आवेदन के लिए खाद्य विभाग द्वारा पंजीकृत किसानों का डाटा की जांच की जाएगी। जांच के बाद उपार्जित मात्रा के आधार पर अनुपातिक रकबा की जानकारी देकर सहायता राशि प्रदान की जाएगी। 77 सहकारी शक्कर कारखाने की पंजीकृत रकबा की गणना की जाएगी जिससे उन्हें अनुदान सहायता राशि प्रदान की जा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत धान मक्का गन्ना को छोड़कर सोयाबीन मूंगफली तेल अरहर मूंग उड़द कुलथी रात तिल कोदो कुटकी तथा रबी फसल के लिए अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना

राजीव गांधी किसान न्याय योजना तीसरी किस्त

21वे स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा तीसरी किस्त देने की घोषणा की गई है। इस योजना के अंतर्गत अब तक 18 लाख 38 हजार किसानों को लाभ पहुंचाया जा चुका है। और इस योजना के तहत तीसरी किस्त के लिए सरकार द्वारा 1500 करोड़ रुपए की राशि निर्धारित कर दी है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत अब तक 1500 करोड़ रुपए की दो किश्तों का भुगतान किया जा चुका है। राजीव गांधी किसान निधि योजना के अंतर्गत कुल चार किसने प्रदान की जाएंगी जिससे किसानों के जीवन में काफी सुधार आएगा। इस योजना के अंतर्गत उपस्थित लाभार्थियों में से 9,55,531 सीमांत कृषक है, 5,61,523 लघु कृषक है तथा 3,21,538 दीर्घ कृषक हैं।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

किसान न्याय योजना की दूसरी किस्त

पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न राजीव गांधी की जयंती के शुभ अवसर पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा 20 अगस्त 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दूसरी किस्त प्रदान की गई। इस योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ के लगभग 19 लाख किसानों को 1500 करोड़ रुपए की दूसरी किस्त उनके बैंक खातों में हस्तांतरित की गई। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना के अंतर्गत जल्द से जल्द आवेदन करना होगा

आवेदन के लिए कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • राज्य के सभी पंजीकृत किसानों को राजीव गांधी किसान योजना के नियम मान्य किया जाएगा और दूसरी फसलों के लिए राजस्व विभाग द्वारा एक पोर्टल भी आरंभ किया जाएगा जिसके माध्यम से एरिया वाइज फ्रॉक प्राइस कवरेज की जाएगी
  • धान मक्का तथा गन्ना के उत्पादक किसानों को छोड़कर अन्य फसलों के सभी किसानों को सहायता राशि प्रदान की जाएगी
  • एग्रीकल्चर एक्सटेंशन अधिकारी द्वारा आवेदन पत्र की जांच की जाएगी जिसके बाद किसानों को अपना आवेदन कोऑपरेटिव सोसाइटी में कराना होगा और वहां फॉर्म सभी दस्तावेजों के साथ जमा करना होगा
  • इस योजना का लाभ उन्हीं फसलों पर प्रदान किए जिसकी जानकारी दिशानिर्देश में दी गई है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा 2020 में आरंभ किया गया
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को उनके धान पर न्यूनतम समर्थन मूल्य राशि प्रदान की जाएगी।
  • इस राशि के माध्यम से उन्हें किसी कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • इससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा
  • छत्तीसगढ़ किसान न्याय योजना के माध्यम से किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।
  • इस योजना का लाभ केवल राज्य के खेती करने वाले किसान ही उठा सकते हैं
  • छत्तीसगढ़ किसान न्याय योजना के अंतर्गत अभी केवल धान गन्ना और मक्का के किसानों को ही शामिल किए गए हैं।
  • इस योजना के माध्यम से छत्तीसगढ़ के किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगे।
  • उन्हें कमजोर आर्थिक स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा।

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज एवं पात्रता

  • आवेदक छत्तीसगढ़ का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है
  • केवल किसानों को ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा
  • किसानों के पास खुद का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

किसान निधि योजना के अंतर्गत सत्यापन प्रक्रिया

  • अन्य फसलों के किसानों को सहकारी समिति में पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा
  • इसके पश्चात पंजीकरण फार्म का सत्यापन रोलर एग्रीकल्चर एक्सटेंशन ऑफिसर द्वारा किया जाएगा।
  • सत्यापन के नियम गिरदावरी की आवश्यकता पड़ेगी जो पोर्टल पर उपलब्ध होगा।
  • पंजीकरण फॉर्म के सत्यापन के बाद किसानों को अपना पंजीकरण कोऑपरेटिव सोसाइटी में 28 फरवरी 2021 से पहले करवाना होगा।
  • पंजीकरण के समय किसानों के पास सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज उपस्थित होने चाहिए।
  • राजीव गांधी किसान योजना के अंतर्गत केवल उन्हीं फसलों पर सहायता राशि प्रदान की जाएगी जिन्हें दिशा निर्देश में जारी किया गया है।
  • इस पूरी प्रक्रिया के बाद डेटाबेस प्राप्त होगा और नोडल पहन के माध्यम से सहायता राशि सीधे लाभार्थियों के खातो में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।

राजीव गांधी किसान निधि योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

ऑफलाइन आवेदन

  • सर्वप्रथम आपको अपने जिले के कृषि विभाग में जाना होगा।
  • विभाग में जाने के बाद आपको कृषि विभाग से राजीव गांधी किसान न्याय योजना के आवेदन फॉर्म की मांग करनी होगी।
  • आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद उसमें पूछी गई सभी जानकारी आपको सही-सही दर्ज करनी होगी
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अटैच करने होंगे
  • दस्तावेज़ अटैच करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म जमा कर देना होगा
  • इस प्रकार आपका आवेदन हो जाएगा।

ऑनलाइन आवेदन

  • सबसे पहले आपको राजीव गांधी किसान न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको राजीव गांधी किसान न्याय योजना आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको सही-सही दर्ज करनी होगी
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अटैच करने होंगे
  • दस्तावेज अटैच करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा
  • इस प्रकार आपका आवेदन सफलतापूर्वक हो जाएगा।

National Portal Of India- india.gov.in

Leave a Comment