(रजिस्ट्रेशन ) Kusum Yojana: कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं हमारे देश में किसानों को बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। किसानों की इसी परेशानी को देखते हुए केंद्र सरकार किसानों के लिए किसान ऊर्जा सुरक्षा उत्थान महाअभियान जिसे हम कुसुम योजना के नाम से भी जानते हैं का आरंभ किया है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को सिंचाई करने के लिए केंद्र सरकार सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप मोहिया करवाएगी। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे किस प्रकार आप इस योजना में आवेदन कर सकते हैं। इसी के साथ हम आपको अन्य जरूरी जानकारियां भी प्रदान करेंगे जैसे कि कुसुम योजना के उद्देश्य, कुसुम योजना के लाभ, कुसुम योजना में आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज आदि। यदि आप कुसुम योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को ध्यान से पढ़े।

कुसुम योजना क्या है?

केंद्र सरकार ने किसानों के लिए कुसुम योजना का आरंभ किया है। कुसुम योजना के अंतर्गत सिंचाई करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले पंप जो कि पेट्रोल या डीजल से चलते हैं उन्हें केंद्र सरकार सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों में बदलेगी। इस योजना के 2 फायदे हैं। पहला यह कि किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप मोहिया कराए जाएंगे जिससे उनको पेट्रोल या डीजल से चलने वाले पंप का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा। दूसरा यह कि किसानों को इन पंप सेट के साथ ऊर्जा पावर ग्रिड प्रदान किए गए हैं जिसकी वजह से जो भी अतिरिक्त बिजली किसानों के पास जमा होगी उसे वह सरकार को सीधे भेज सकते है। इसकी वजह से किसानों की आय में भी वृद्धि होगी।

कुसुम योजना का लक्ष्य और इसमें आने वाला खर्च

कुसुम योजना के अंतर्गत सरकार ने साल 2022 तक 3 करोड़ खेती उपयोगी पंप को सोलर पंप में परिवर्तित करने का लक्ष्य रखा है। इसी के साथ 17.5 लाख डीजल पंप को भी सोलर पंप में बदलने का लक्ष्य रखा है। सरकार ने कुसुम योजना को चलाने के लिए 1.4 करोड़ का बजट निर्धारित किया है। इस 1.4 करोड़ के बजट में 48 हजार करोड़ रुपए केंद्र सरकार देगी और 48 हजार करोड़ रुपए ही राज्य सरकार देगी अथवा किसानों को लागत का 10 फ़ीसदी ही देना होगा। 2020-21 के बजट में वित्त मंत्री ने 15 लाख किसान ग्रिड से जुड़े सोलर पंप लगाने के लिए बजट निर्धारित किया है। इसी के साथ हम आपको बता दें कि कुसुम योजना के अंतर्गत जो सोलर पंप प्रदान किए जाएंगे वह 0.5 मेगावाट से लेकर 2 मेगावाट तक के होंगे।

कुसुम योजना Key Highlights

आर्टिकल किसके बारे में हैकुसुम योजना
किस ने लांच की स्कीमभारत सरकार
लाभार्थीभारत के किसान
उद्देश्यकिसानों को सिंचाई करने के लिए सौर पंप प्रदान करना
ऑफिशियल वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2021
स्कीम उपलब्ध है या नहींउपलब्ध

कुसुम योजना का उद्देश्य

  • कुसुम योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप को मुहैया कराना है। यदि किसानों के पास सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप होंगे तो उन्हें डीजल या पेट्रोल से चलने वाले पंपों का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा। जिससे पैसों की बचत होगी और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा। इसी के साथ सरकार पावर ग्रिड भी प्रदान करेगी जिससे बिजली बचाकर किसान सीधे बिजली सरकार को बेच सकते हैं।इससे किसानों की आमदनी में भी वृद्धि होगी।

 कुसुम योजना के लाभ

  • इस योजना के अंतर्गत रियायती दरों पर सिंचाई करने के लिए सौर पंप उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • इस योजना का लाभ देश का कोई भी किसान उठा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को 10 फीसदी लागत का देना होगा।
  • 2022 तक इस योजना के अंतर्गत कम से कम तीन करोड़ पंपों को बिजली और डीजल की जगह सौर ऊर्जा से चलाने का लक्ष्य केंद्र सरकार ने निर्धारित किया है।
  • इस योजना के अंतर्गत यदि किसान अतिरिक्त बिजली बचाकर किसी भी सरकारी या गैर सरकारी बिजली विभाग को भेजेंगे तो उसकी कीमत किसान को दी जाए। इस के जरिए किसानों को 1 माह में ₹6000 तक मिल सकते हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत कम से कम 28000 मेगावाट एक्स्ट्रा बिजली का उत्पादन हो सकता है।
  • इस योजना के पहले चरण में 17।5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा में चलाया जाएगा।
  • डीजल खपत में कमी आएगी।
  • किसानों की आय में वृद्धि होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले खर्चे में 60% केंद्र सरकार देगी 30% बैंक लोन से सहायता प्रदान की जाएगी अथवा किसान को सिर्फ 10% लागत का भुगतान करना होगा।
  • उन सभी राज्यों में जहां सूखा पड़ता है और बिजली की समस्या रहती है उन राज्यों में कुसुम योजना बहुत फायदेमंद साबित होगी।
  • सौर प्लांट से 24 घंटे बिजली रहेगी।

कुसुम योजना में आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • आय प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पता का सबूत
  • पासपोर्ट साइज फोटो

कुसुम योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप कुसुम योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए तरीकों को फॉलो करिए।

  • सबसे पहले आपको कुसुम योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
(रजिस्ट्रेशन ) Kusum Yojana: कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म
  • होम पेज पर आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का विकल्प ढूंढना होगा और इस विकल्प के दिखाई देने के बाद आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
(रजिस्ट्रेशन ) Kusum Yojana: कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म
  • इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि नाम, पता, आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि भरिए।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • यदि आप का पंजीकरण सफल हो गया है तो आपको सौर पंप सेट की 10% लागत अनुमोदित आपूर्तिकर्ताओं को जमा करनी का निर्देश मिलेगा।
  • इसके बाद आपको कुछ दिन का इंतजार करना होगा उसके बाद आप के खेत में सोलर पंप लगा दिए जाएंगे।

कुसुम योजना में आवेदन की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको कुसुम योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपको कुसुम के लिए पंजीकृत आवेदन की सूची वाले विकल्प को ढूंढना होगा।
  • इस विकल्प के मिल जाने के बाद आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • इसको क्लिक करते ही आपके सामने आवेदकों की सूची खुल जाएगी।
  • अब आप इस सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

Leave a Comment