उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना 2023 | UP Mukhbir Yojana जाने लाभ व विशेषता

हमारे देश में बहुत से ऐसे युवा है जो सरकारी नौकरी में जाकर एक बेहतर नौकरी करना चाहते हैं और ज्यादातर पुलिस विभाग या फिर आर्मी से जुड़ी हुई नौकरियों के लिए युवाओं के अंदर अलग ही जोश देखने को मिलता है परंतु कुछ विकट परिस्थितियों के कारण उनका इन नौकरियों के अंतर्गत जुड़ाव नहीं हो पाता जिससे वाह एक अच्छी नौकरी पाने से रह जाते हैं परंतु यदि कोई युवा अपने देश का सच्चा नागरिक होने के नाते सरकार और पुलिस की सहायता करना चाहता है तो उसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने एक महत्वपूर्ण योजना का संचालन किया है जिसे UP Mukhbir Yojana 2023 के नाम से जानते हैं जो राज्य में जितनी भी गैरकानूनी गतिविधियां है उन पर नजर रखकर पुलिस को बताना होता है ऐसे में सरकार उन्हें इनाम भी देती है उसके साथ ही साथ प्रशस्ति पत्र से भी सम्मानित करती है |

Uttar Pradesh Mukhbir Yojana

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा यूपी मुखबिर योजना 2023 की शुरुआत की गई जिसके अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति सरकार का मुखबिर बनता है और भ्रूण हत्या जैसे मामलों को उजागर करता है तो सरकार उसे ₹200000 तक का इनाम देने का कार्य करेगी इसके लिए प्रत्येक जिले में एक तीन सदस्यीय टीम का गठन किया जाएगा जिसमें एक गर्भवती महिला, सहायिका और मुखबिर होगा जो सभी अस्पतालों और डॉक्टरों से संबंध बनाकर रखेंगे और यदि ऐसी परिस्थिति में भ्रूण हत्या जैसा मामला सामने आता है तो वह तुरंत उसकी सूची बनाकर सरकार को सौंप देंगे इसके बाद पुलिस के द्वारा उन लोगों पर कानूनी कार्रवाई की जा सकेगी और ऐसे में सरकार उस मुखबिर को ₹200000 तक की धनराशि प्रदान करेगी इस Uttar Pradesh Mukhbir Yojana के अंतर्गत खासतौर से भ्रूण हत्या जैसे मामलों को पकड़ा जाएगा जिससे भ्रूण हत्या को रोका जा सके।

UP Mukhbir Yojana
UP Mukhbir Yojana

यह भी पढ़े: यूपी एफ आई आर स्टेटस 

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना का उद्देश्य

यदि देखा जाए तो हमारे देश में आज भी भ्रूण हत्या जैसे मामले देखने को मिलते हैं और साक्षरता में कमी के कारण भी भ्रूण हत्या लोगों को आज भी आम बात लगती है परंतु सरकार भ्रूण हत्या जैसे मामलों को कम करने के लिए कई प्रकार की योजनाएं संचालित करती है जिसमें से एक महत्वपूर्ण योजना Uttar Pradesh Mukhbir Yojana है जिसके माध्यम से सरकार प्रत्येक जिले में 3 सदस्यों की टीम घोषित करेगी और जो भी भ्रूण हत्या जैसे मामलों को किसी भी अस्पताल या डॉक्टर की मिली भगत को पकड़वाएगा उसे सरकार के द्वारा ₹200000 इनाम के रूप में देने का कार्य किया जाएगा

जिससे भ्रूण हत्या जैसे मामलों में कमी देखने को मिलेगी और लोग भी इससे सचेत होंगे और इसके साथ ही साथ उस व्यक्ति को सरकार एवं पुलिस विभाग का खुफिया जासूस के तौर पर सहयोग करने पर पुलिस प्रशासन का संरक्षण भी प्राप्त होगा।

Key Highlights of UP Mukhbir Yojana

योजनाउत्तर प्रदेश मुखबिर योजना 2023
संचालनउत्तर प्रदेश सरकार
विभागस्वास्थ्य विभाग,उत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीराज्य के सभी नागरिक
उद्देश्यराज्य में भ्रूण हत्या जैसे मामलों की पकड़ करना
इनामी राशि 2 लाख रुपए तक
आधिकारिक वेबसाइट Click Here

Uttar Pradesh Mukhbir Yojana का लाभ एवं विशेषताएं

  • यूपी मुखबिर योजना के तहत मुखबिर बनने पर सरकार के द्वारा 2 लाखों रुपए इनाम के तौर पर दिए जायेंगे।
  • राज्य में भ्रूण हत्याओं जैसे मामलों पर रोक लगाने के लिए Uttar Pradesh Mukhbir Yojana की शुरुवात की गई
  • यदि कोई व्यक्ति पुलिस का खुफिया जासूस बनता है तो उसे सरकार के द्वारा मुखबिर बनने पर प्रत्येक केस पर इनामी राशि देने का कार्य किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत 3 सदस्यीय टीम गठित की जाएगी जो अस्पतालों में दोषी डॉक्टरों को पकड़वाने का कार्य करेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को 1 लाख रुपए,मुखबिर को 60 हजार रुपए और सहायिका को 40 हजार रुपए इनाम के तौर पर दिया जाएगा।
  • Uttar Pradesh Mukhbir Yojana के तहत टीम को 3 चरणों में इनामी राशि दी जाएगी।
  • उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना के अंतर्गत कोई भी आम आदमी आवेदन कर के खुफिया जासूस बन सकता है।
  • जो भी व्यक्ति मुखबिर बनेगा उसे पुलिस प्रशासन का संरक्षण प्रदान किया जाएगा। 
उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना हेतु पात्रता
  • जो भी व्यक्ति Uttar Pradesh Mukhbir Yojana का लाभ लेना चाहता है उसे उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा न्यूनतम 18 वर्ष की आयु निर्धारित की गई है।
  • कोई भी व्यक्ति चाहे वो किसी भी धर्म, जाति का हो इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े: यूपी ग्रामीण आवास योजना लिस्ट

Uttar Pradesh Mukhbir Yojana  के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

यदि आप उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा संचालित की जाने वाली उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं या फिर इस योजना से जुड़ना चाहते हैं तो उसके लिए आपको अपने जिले में स्वास्थ्य विभाग कार्यालय पर जाकर उच्च अधिकारी से संपर्क करना होगा इसके बाद संबंधित अधिकारी के द्वारा आप का चयन किया जाएगा और उसके बाद आपको एक स्टिंग ऑपरेशन करने के लिए एक टीम में शामिल कर लिया जाएगा यदि आप का ऑपरेशन सफल हो जाता है तो फिर आपको तीन चरणों में सरकार के द्वारा इनामी राशि प्रदान की जाएगी ऐसे में आप आसानी से इस महत्वपूर्ण योजना के अंतर्गत जुड़ सकेंगे।

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना 2023 से संबंधित कुछ सवाल जवाब(FAQs)

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना के अंतर्गत कितने सदस्यों की टीम गठित की जाएगी?

प्रत्येक जिले में 3 सदस्यों की टीम गठित की जाएगी जिसमे एक गर्भवती महिला,एक सहायिका और एक मुखबिर होगा।

मुखबिर योजना के माध्यम से कितना इनाम मुखबिर बनने पर दिया जाएगा

2 लाख रुपए की इनामी राशि

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना का संचालन किस विभाग के द्वारा किया जाता है?

स्वास्थ्य विभाग,उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना को शुरू करने का क्या कारण है?

राज्य में बढ़ते हुए भ्रूण हत्या जैसे मामलों को कम करना और दोषी डॉक्टरों को पकड़ कर कानूनी कार्यवाही करना।

Leave a Comment