|Pankh Abhiyan| एमपी पंख योजना 2021- रजिस्ट्रेशन फॉर्म, लाभ व उद्देश्य

मध्य प्रदेश पंख योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | Madhya Pradesh Pankh Yojana Registration | एमपी पंख योजना ऑनलाइन आवेदन | MP Pankh Abhiyan In Hindi |

मध्य प्रदेश में बालिकाओं को सुरक्षा जागरूकता पोषण ज्ञान और स्वास्थ्य प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा एमपी पंख अभियान का शुभारंभ 24 जनवरी 2021 को राष्ट्रीय बालिका दिवस के दिन किया गया। इस योजना के अंतर्गत लड़कियों को उनके अधिकारों और भेदभाव के प्रति जागरूक किया जाएगा जिससे सभी स्तर पर लड़कियाँ अपने अधिकार के लिए लड़ सके। तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से एमपी पंख योजना 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जैसे इस योजना का उद्देश्य क्या है, इसके लाभ क्या है, आवेदन के लिए पात्रता क्या है, जरूरी दस्तावेज कौन-कौन से हैं, तथा आवेदन की प्रक्रिया क्या है। Pankh Abhiyan से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपसे निवेदन है कि हमारे इस लेख को विस्तार से पढ़ें।

Madhya Pradesh Pankh Yojana

Madhya Pradesh Pankh Yojana

मध्य प्रदेश पंख योजना को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत मुख्यमंत्री द्वारा लांच किया गया। तथा इस को लॉन्च करते हुए श्री मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा पंख के अंग्रेजी शब्द को विस्तार से बताया गया। पंख से हमारे प्रिय मुख्यमंत्री का मकसद है कि लड़कियों को सुरक्षा अपने अधिकारों के बारे में जागरूकता पोषण ज्ञान और अच्छा स्वास्थ्य प्रदान किया जाए ताकि वह अपने हक के लिए लड़ सके और आत्मनिर्भर बन सकें। पंख अभियान अब तक के अभियान में सबसे ज्यादा चर्चित रहा जिसकी शुरुआत सीएम ने कार्यक्रम के दौरान की थी इस अभियान को कुछ सालों तक चलाया जाएगा जिससे प्रदेश की बालिकाओं में सशक्तिकरण बड़े और उनका विकास हो।

लाड़ली लक्ष्मी योजना 2021

  • Pankh Abhiyan की संपूर्ण जिम्मेदारी विभिन्न विभागों जैसे,
  • शिक्षा समाज कल्याण लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को सौंपी गई है
  • जिसके द्वारा बेटियों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा
  • और उनके स्वास्थ्य शिक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित किया जाएगा
  • तथा उनके विकास की देखरेख भी विभागों द्वारा की जाएगी।
Madhya Pradesh Pankh Yojana

मध्य प्रदेश पंख योजना के मुख्य तथ्य

योजना का नामएमपी पंख योजना 2021
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा
आरंभ तिथि24 जनवरी 2021
योजना का उद्देश्यबेटियों को शारीरिक मानसिक भावनात्मक एवं मनोवैज्ञानिक विकास प्रदान किया जाए
योजना का लाभप्रदेश की बालिका आत्मनिर्भर व सशक्त बनेगी
विभागशिक्षा सामाजिक कल्याण लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग
आवेदन का प्रकारअभी घोषित नहीं किया गया
आधिकारिक वेबसाइटअभी उपलब्ध नहीं

Central Government Scheme 2021

Objective Of MP Pankh Abhiyan

जैसे कि हम सब जानते हैं हमारे देश में बालक और बालिकाओं के बीच भेदभाव किया जाता है तथा उनके अधिकारों को निरस्त किया जाता है और ऐसे में बालिकाओं को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है इसी चीज को मद्देनज़र रखते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा पंख अभियान को राष्ट्रीय बालिका दिवस पर आरंभ किया गया। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है कि बालिकाओं को शारीरिक मानसिक भावनात्मक एवं मनोवैज्ञानिक विकास प्रदान किया जाए जिससे प्रदेश के बेटी का समग्र विकास हो और वह सशक्त और आत्मनिर्भर बने।

मध्य प्रदेश पंख योजना रजिस्ट्रेशन

पंख अभियान से महिलाओं का होगा सशक्तिकरण

श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा कहा गया कि लड़कियों को ना केवल जोड़ो और कराटे जैसी आत्मरक्षा तकनीकों का प्रशिक्षण प्रदान किया जाए बल्कि उन्हें हथियार भी दिए जाने चाहिए ताकि वह अपना बचाव आसानी से कर सके। तथा न्यायिक प्रणाली में भी सुधार की आवश्यकता है ताकि एक लड़की से बलात्कार करने वालों को मृत्युदंड प्रदान किया जाए क्योंकि इस अभियान का मकसद है कि लड़कियों को सुरक्षा स्वास्थ्य और शिक्षा सुनिश्चित करने के बाद महिला सशक्तिकरण का सपना साकार हो सके। मुख्यमंत्री द्वारा यह भी उल्लेख किया गया कि मध्य प्रदेश सरकार ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अश्लील सामग्री के प्रदर्शन की जांच करने के लिए कानूनी प्रावधानों के साथ आएंगे जो युवा दिमाग पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं।

मध्य प्रदेश पंख योजना रजिस्ट्रेशन

एमपी पंख अभियान में स्वास्थ्य शिक्षा और सुरक्षा

Pankh Abhiyan द्वारा लड़कियों को गाइड किया जाएगा ताकि वह अपनी क्षमता का अधिकतम उपयोग कर सकें। पंख योजना के तहत अगले 2 महीने के लिए पहले से ही कैलेंडर तैयार कर लिए गए हैं तथा संबंधित विभागों की मदद से लड़कियों को स्वास्थ्य शिक्षा और सुरक्षा प्रदान की जाएगी। सीएम द्वारा घोषणा की गई कि उन्होंने हमेशा महिला कल्याण पर अधिकतम ध्यान दिया है। 1990 में विधायक बनने के बाद उन्होंने दोस्तों की मदद से सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया था तथा जब वह मध्य प्रदेश के सीएम बने तब उनकी सरकार ने लाडली लक्ष्मी कन्यादान और गांव की लड़की जैसी योजनाओं की शुरुआत की थी ताकि देश की लड़की आत्मनिर्भर बनें और वह अपने अधिकार के लिए आवाज उठा सके।

2008 से हुई थी बालिका दिवस की शुरुआत

आपको बता दें कि 24 जनवरी 1966 मैं इंदिरा गांधी देश की पहली प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी तथा इस दिन देशभर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए थे जैसे सेव द गर्ल चाइल्ड, चाइल्ड सेक्स रेशियो और बालिकाओं के स्वास्थ्य और सुरक्षित वातावरण बनाने तथा जागरूकता कार्यक्रम इसी लिए भारत सरकार ने 2008 में हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालक दिवस के रूप में बनाने की शुरुआत की थी ताकि देश में बालिकाओं के स्वास्थ्य और सुरक्षा पर हमेशा ध्यान दिया जाए तथा उन्हें अनेक जागरूकता कार्यक्रम प्रदान किए जाएं जिससे वह सशक्त बन सके।

मध्य प्रदेश पंख योजना रजिस्ट्रेशन

पंख अभियान की जिम्मेदारी विभिन्न विभागों को

सरकार द्वारा पंख अभियान की संपूर्ण जिम्मेदारी विभिन्न विभागों को सौंपी गई है जैसे के शिक्षा सामाजिक कल्याण लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग। इन सभी विभागों द्वारा बेटियों का डाटाबेस तैयार किया जाएगा जिससे उन्हें स्वास्थ्य शिक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित कराई जाएगी तथा उनके विकास की भी देखरेख इन विभागों द्वारा की जाएगी। इसके अलावा योजना के अंतर्गत पुलिस विभाग के साथ मिलकर बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण पंचायत स्तर पर वोकेशनल ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी।

समाज को समावेशी बनाने के लिए बालिकाओं का उत्थान

बालिकाओं के उत्थान और हमारे समाज को अधिक समावेशी बनाने की आवश्यकता है जिसे पंख योजना के माध्यम से महसूस किया जा सकता है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सहित कई नेताओं ने अपनी इच्छाओं को जारी किया। पीएम द्वारा ट्वीट मैं बताया गया कि राष्ट्रीय बालिका दिवस पर हम अपने देश की बेटी और विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धियों को सलाम करते हैं केंद्र सरकार ने कई पहल की है जिसमें बालिकाओं को सशक्त बनाने पर ध्यान केंद्रित किया गया है और अब तक सबसे ज्यादा ध्यान शिक्षा के ऊपर दिया गया है ताकि देश की बेटी अपने पैरों पर खड़ी हो सके।

Pankh Abhiyan

पंख योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा एमपी पंख अभियान की शुरुआत 24 जनवरी 2021 में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर की गई।
  • पंख अभियान को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत आरंभ किया गया है
  • इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है कि बालिकाओं को सुरक्षा जागरूकता पोषण ज्ञान और स्वास्थ्य प्रदान किया जाए।
  • ताकि देश में सभी स्तर पर लड़कियाँ अपने अधिकारों के लिए लड़ सके।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि देश में लड़कियों को सम्मान व अधिक अवसर प्रदान किए जाएं जिससे वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके
  • इस योजना का मुख्य लाभ है कि बेटियों को शारीरिक मानसिक भावनात्मक एवं मनोवैज्ञानिक विकास प्रदान किया जाए।
  • Pankh Abhiyan के चलते प्रदेश में बेटियों का समग्र विकास होगा।
  • इस अभियान की संपूर्ण जिम्मेदारी सरकार द्वारा विभिन्न विभागों को सौंपी गई है जो है शिक्षा, सामाजिक कल्याण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण
  • योजना के अंतर्गत पुलिस विभाग द्वारा बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण और पंचायत स्तर पर वोकेशनल ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी।
  • इन योजनाओं के जरिए सरकार देश के बेटे को आत्मनिर्भर बनाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है।

आवेदन के लिए पात्रता

  • केवल महिलाएं इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • उम्मीदवार मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक बीपीएल धारक होना अनिवार्य है।
Pankh Abhiyan

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • ऐड्रेस प्रूफ
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • शैक्षिक प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर

एमपी पंख योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी एमपी पंख योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा अभी इस योजना को आरंभ किया गया है इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को सरकार द्वारा आरंभ नहीं किया गया है। जैसे ही Pankh Abhiyan के अंतर्गत सरकार द्वारा आवेदन की प्रक्रिया को आरंभ किया जाएगा वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया प्रदान करेंगे। यदि तब तक आप को इस योजना से संबंधित कोई भी कठिनाई आती है तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

National Portal Of India- india.gov.in

Leave a Comment