हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना 2023- ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और Mukhyamantri Gram Kaushal Yojana Online Application Form, एप्लीकेशन स्टेटस

हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र युवाओं को धातु पत्थर और लकड़ी के शव का प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के द्वारा Himachal Pradesh Mukhyamantri Gram Yojana का शुभारंभ किया गया। इस योजना के माध्यम से लोगों को प्रशिक्षण प्रदान करने के बाद विभिन्न रोजगार के अवसर मुहैया कराए जाएंगे जिससे वह अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार ला सके। यदि आप भी हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना 2023 से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढे।

Mukhyamantri Gram Kaushal Yojana

हिमाचल प्रदेश बजट 2021 में सीएम जयराम ठाकुर के द्वारा घोषणा की गई थी 1000 उम्मीदवारों को अगले 1 साल में मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के तहत धातु पत्थर और लकड़ी के शिल्प की पारंपरिक कलाओं का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त 1000 लाभार्थियों को दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत नौकरी भी उपलब्ध कराई जाएगी।

  • मुख्यमंत्री द्वारा कहा गया कि युवाओं को लाभान्वित करने के लिए ग्रामीण विकास उन्मुख योजनाएं शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है
  • ताकि उन्हें रोजगार की तलाश में ग्रामीण क्षेत्र छोड़कर शहरी क्षेत्रों में जाने की आवश्यकता ना पड़े,
  • वह अपने क्षेत्र में रहकर ही रोजगार प्राप्त कर सकें और अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकें।
  • Himachal Pradesh Mukhyamantri Gram Yojana ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना चलाई गई है
  • जिसका उपयोग करके अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकेंगे तथा रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।
Mukhyamantri Gram Kaushal Yojana
Mukhyamantri Gram Kaushal Yojana

यह भी पढ़े: प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एप्लीकेशन फॉर्म

एचपी मुख्यमंत्री ग्राम योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सब जानते हैं कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त करने के लिए अपना क्षेत्र छोड़कर शहरी क्षेत्रों में जाने की आवश्यकता पड़ती है और ऐसे मैं उन्हें काफी कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ता है इसी बात को ध्यान में रखते हुए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के द्वारा हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना को आरंभ किया गया। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को धातु पत्थर और लकड़ी के शिल्प की पारंपरिक कलाओं का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा जिससे वह अपने क्षेत्र में उत्तम हो सके और रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकें। इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण के दौरान युवाओं को अपने स्वयं के खर्च के लिए प्रशिक्षण राशि भी प्रदान की जाएगी जिससे वे आत्मनिर्भर व सशक्त रह सके

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के मुख्य तथ्य

योजना का नामहिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर
कब शुरू की गई6 जनवरी 2020
योजना का उद्देश्यग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को धातु पत्थर और लकड़ी के शिल्प का प्रशिक्षण प्रदान करना
योजना का लाभप्रशिक्षण के बाद रोजगार के अवसर प्रदान करना है
प्रशिक्षण राशि3000 रुपये
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन आवेदन
आधिकारिक वेबसाइट 

मुख्यमंत्री ग्राम योजना के अंतर्गत प्रशिक्षु को राशि

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा प्रशिक्षकों को 7500 रुपये की राशि तथा प्रशिक्षु को 3000 रुपये प्रदान किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा प्रशिक्षण की अवधि 3 महीने से 1 वर्ष तक निर्धारित कर दी गई है। प्रत्येक बैच में अधिकतम 5 प्रशिक्षुओं को प्रतिशत करने की अनुमति होगी। यह योजना ग्रामीण युवाओं को स्वरोजगार का एक बड़ा स्रोत साबित करने मदद करेगी तथा इसके अलावा हमारी पारंपरिक कला सेल्फ और संस्कृति के पुनरुत्थान के लिए एक लंबा रास्ता तय करेगा।

यह भी पढ़े: Rail Kaushal Vikas Yojana

पाठ्यक्रमों की सूची

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य के 4 जिलों के 18 ब्लॉकों में मुख्यमंत्री ग्राम योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया है। उन पाठ्यक्रमों की पूरी सूची कुछ इस प्रकार है

  • लकड़ी का शिल्प
  • धातु का शिल्प
  • मंडी कलाम
  • पत्थर का शिल्प
  • बांस का शिल्प
  • कढ़ाई
  • पाइन सुई उत्पाद
  • मिट्टी के बर्तन

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना को हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा 6 जनवरी 2020 में आरंभ किया गया था।
  • हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना को आरंभ करने की घोषणा बजट पेश करते दौरान की गई थी ‌
  • हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा।
  • यह प्रशिक्षण धातु पत्थर और लकड़ी के शिल्प की परंपरिक कलाओं का होगा।
  • इस योजना के अतिरिक्त 1000 लाभार्थियों को दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत नौकरी उपलब्ध कराई जाएगी।
  • ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को नौकरी के लिए अपने क्षेत्र छोड़कर शहरी क्षेत्र में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी
  • इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण के दौरान लोगों को प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जाएगी
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षकों को 7500 रुपये तथा प्रशिक्षु को 3000 रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान किए जाएंगे।
  • हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना के अंतर्गत ग्रामीण युवाओं को एक बड़ा स्रोत साबित करने में मदद करेगी
  • इससे ग्रामीण क्षेत्र के युवा आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनेंगे।

आवेदन के लिए पात्रता एवं दस्तावेज

  • आवेदक हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है
  • उम्मीदवार के पास कोई कमाई का स्रोत नहीं होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ किया गया है अभी इसके अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है जैसे ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को आरंभ किया जाएगा वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे यदि आपको इस योजना से संबंधित कोई भी कठिनाई आती है या मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है

National Portal Of India- india.gov.in

Leave a Comment