नाबार्ड योजना 2023- डेयरी फार्मिंग योजना, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

NABARD Yojana ऑनलाइन आवेदन और डेयरी फार्मिंग योजना एप्लीकेशन फॉर्म एवं आवेदन की स्थिति व लॉगिन प्रक्रिया देखे

केंद्र सरकार द्वारा देश के डेयरी फार्मिंग उद्योग को संरचना में लाने और रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए NABARD नाबार्ड योजना 2023 को आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को डेयरी फार्मिंग के उद्योगों को संरचना में लाने और पशुपालन डेयरी और मत्स्य पालन विभाग स्थापना सहायता प्रदान करने के लिए बैंकों द्वारा कम ब्याज दरों पर लोन प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से देश के सभी जिलों में डेयरी स्थापित की जाएगी जिससे रोजगार के अफसरों को भी बढ़ावा मिलेगा। तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी जैसे नाबार्ड योजना का उद्देश्य, लाभ, पात्रता क्या है

NABARD Dairy Farming Yojana

इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के बेरोजगार युवकों को रोजगार अवसर उपलब्ध करवाने के लिए आरंभ किया गया है। डेयरी फार्मिंग योजना के अंतरित देश में दूध का उत्पादन के लिए डेयरी फार्म की स्थापना की जाएगी तथा दूध उत्पादन से लेकर गाय और भैंसों की देखरेख गायों की रक्षा का निर्माण किया जाएगा। NABARD योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि बेरोजगार लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत लोगों को अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए लोन उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि देश में दूध का उत्पादन बढ़े और हमारे देश से बेरोजगारी खत्म हो सके।

मत्स्य संपदा योजना

नाबार्ड योजना का उद्देश्य

हमारे देश के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों द्वारा कई तरह की आजीविका चलाई जाती हैं। और देश में डेयरी फार्मिंग कम होने के कारण लोगों को ज्यादा मुनाफा नहीं हो पाता। इसी चीज को मद्देनजर रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा नाबार्ड योजना (NABARD Yojana) को आरंभ किया गया। इस योजना के माध्यम से दिल्ली के उद्योग को व्यवस्थित किया जाएगा और इसके माध्यम से बोलकर के अवसर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को प्रदान किए जाएंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य लोगों को अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए नि शुल्क ब्याज दर पर लोन प्रदान करना है। जिसके माध्यम से देश में बेरोजगारी खत्म हो पाएं और लोगों को आय का साधन प्राप्त हो सके।

(NABARD) डेरी फार्मिंग योजना के मुख्य तथ्य

योजना का नामनाबार्ड योजना 2023
किसके द्वारा शुरू की गईकेंद्र सरकार द्वारा
विभागपशुपालन विभाग
योजना का उद्देश्यलोगों को बिना ब्याज के लोन देना ताकि वह अपना व्यवसाय शुरू कर सके
योजना के लाभार्थीग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक
योजना का लाभरोजगार के अवसर को बढ़ावा देना
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन
आधिकारिक वेबसाइटwww.nabard.org

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

डेयरी फार्मिंग योजना के तहत दी जाने वाली बैंक सब्सिडी

  • इस योजना के तहत अगर आप मशीन खरीदते हैं और उसकी कीमत 13.20 लाख रुपए होती है तो आपको इस पर 25 फ़ीसदी की कैपिटल सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना मैं पंजीकृत व्यक्ति की कैटेगरी अगर sc-st में आती है तो उसके लिए 4.40 लाख रुपए की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • नाबार्ड योजना के तहत ऋण राशि बैंक द्वारा अनुमोदित की जाएगी तथा बाकी का 25 परसेंट लाभार्थी द्वारा दिया जाएगा।
  • अगर कोई व्यक्ति डेरी शुरू करना चाहता है तो उसे सरकार द्वारा 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी। तथा बाकी का 50 परसेंट अलग-अलग किस्तों में बैंक को भुगतान किया जाएगा।

(NABARD) नाबार्ड योजना के अंतर्गत फार्मिंग योजनाएं

आत्मनिर्भर भारत 3.0

पहली योजना

लाल सिंधी, साहिवाल, राठी, गिर इत्यादि जैसी दूध देने वाली गाय हाइब्रिड गाएं 10 दुधारू पशुओं जैसे के पैसों के लिए छोटे डेरी यूनिट की स्थापना करना।

  • निवेश- 10 जानवरों के लिए 5 लाख रुपये 
  • सब्सिडी- दस पशु डेयरी पर 25%, 1.25 लाख रुपये अधिकतम अनुमति पूंजी सब्सिडी दो पशु इकाई के लिए 25000 रुपये 

दूसरी योजना

बछिया बछड़ों के पालन 20 बछड़ों के ऊपर पार्टनर स्वदेशी मवेशियों और वर्गीकृत भैंस दूधारू नस्लों का विवरण

  • निवेश- 20 बछड़ों इकाइयों के लिए 80 लाख रुपये
  • सब्सिडी- 20 वर्षों तक की यूनिट खोलने के लिए 25% की सब्सिडी, 1.25 लाख तक की पूंजी पर दी जाएगी sci-tech कैटेगरी वालों को 1.60 लाख तक

तीसरी योजना

वर्मीकंपोस्ट और खाद (दुग्ध पशुओं के साथ इकाई के साथ नहीं जोड़ा जाएगा

  • निवेश- 20,000 रुपये तक
  • सब्सिडी- इस योजना के अंतर्गत अगर किसी व्यक्ति ने 4.50 तक का लोन लिया है तो उसे 25 परसेंट की सब्सिडी प्राप्त होगी। तथा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वाले लाभार्थियों को ₹600000 तक की पूंजी पर 33 परसेंट सब्सिडी की प्राप्त होगी।

चौथी योजना

दूध परीक्षाको को दूध निकालने की मशीन ऊपर खरीद अधिक मात्रा में दूध होने पर उसे ठंडा रखने के नियम फ्रिज 2000 लीटर तक

  • निवेश- 18 लाख रुपये तक
  • सब्सिडी- 4.50 लाख रुपये लेने पर 25 परसेंट सब्सिडी प्रदान की जाएगी अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति किसानों को।

पांचवी योजना

स्वदेशी दूध उत्पादों का उत्पादन करने के लिए प्रसंस्करण के उपकरण की खरीद

  • निवेश- 12 लाख रुपये तक
  • सब्सिडी- 3 लाख रुपये तक 25% की सब्सिडी तथा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति को चार लाख तक की पूंजी पर 33% की सब्सिडी।

छठी योजना

डेयरी उत्पाद परिवहन सुविधाएं और शीत श्रंखला स्थापना

  • निवेश- 24 लाख रुपये तक
  • सब्सिडी- 7.50 लाख तक पर 25% की सब्सिडी तथा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वालों को 10 लाख तक के लोन पर 33% की सब्सिडी |

सातवीं योजना

दूध और दुग्ध उत्पादों के लिए शीत भंडारण सुविधा

  • निवेश- 30 लाख रुपए तक
  • सब्सिडी- योजना के अंतर्गत चिकित्सा खोलने पर 25% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी, मोबाइल होने पर सरकार द्वारा 45000 की सब्सिडी प्रदान की जाएगी, स्तर होने पर 7000 की सब्सिडी प्रदान की जाएगी, अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों को 33 परसेंट सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा,

आठवीं योजना

निजी पशु चिकित्सा क्लिनिक की स्थापना

  • निवेश- 2.40 लाख रुपए तक/ स्थित क्लीनिक के लिए 1.80 लाख रुपए तक
  • सब्सिडी- विवो का 25 परसेंट अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जाति को ₹45000 और ₹60000 की पूंजी सब्सिडी मोबाइल और सेल्फी लेने के लिए।

नवी योजना

डेरी मार्केटिंग आउटलेट डेहरी पार्लर

  • निवेश- 56000 रुपए तक
  • सब्सिडी- इस योजना के अंतर्गत व्यक्ति ने 25 परसेंट तथा ₹14000 sc-st किसानों के लिए 33% परसेंट।

डेयरी फार्मिंग योजना के लाभार्थी

  • उद्यमी
  • किसान
  • कंपनियां
  • संगठित समूह
  • गैर सरकारी संगठन
  • असंगठित क्षेत्र

नाबार्ड योजना के अंतर्गत संस्थाएं

  • क्षेत्रीय बैंक
  • राज्य सहकारी बैंक
  • व्यवसायिक बैंक
  • राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक
  • अन्य संस्थान नाबार्ड 
आवेदन के लिए पात्रता
  • योजना के तहत एक व्यक्ति एक ही बार लाभ उठा सकता है।
  • नाबार्ड योजना के अंतर्गत किसान व्यक्तिगत उद्यामी गैर सरकारी संगठन कंपनियां और संगठित और असंगठित क्षेत्र समूह आदि पात्र है।
  • इस योजना के तहत एक ही परिवार के 1 से अधिक सदस्य को सहायता प्रदान की जाएगी।
  • प्रति व्यक्ति डेयरी फार्मिंग योजना के तहत सभी घटकों के लिए सहायता प्राप्त कर सकता है। लेकिन प्रत्येक घटक के लिए सिर्फ एक ही बार उपयोग हो सकता है

नाबार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन (Online Registration)

देश के जो इच्छुक लाभार्थी डेयरी फार्मिंग योजना के अंतर्गत आवेदन करवाना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

NABARD Yojana
NABARD Yojana
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने हम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Information Centre के विकल्प पर क्लिक करना है।
NABARD Yojana
NABARD Yojana
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी योजना के हिसाब से डाउनलोड पीडीएफ के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से आप का आवेदन फॉर्म खुल कर आ जाएगा।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है।
  • सभी जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको इस फॉर्म सबमिट कर देना है।
  • इस तरह से आपका आवेदन हो जाएगा।

डेयरी फार्मिंग योजना ऑफलाइन (Offline) आवेदन 

  • सर्वप्रथम आपको डेयरी का प्रकार तय करना है।
  • अगर आप नाबार्ड योजना के तहत डेयरी फार्म खोलना चाहते हैं तो आपको जिले के नाबार्ड ऑफिस में जाना होगा।
  • यदि आप छोटी डेयरी फार्म खोलना चाहते हैं तो आपको अपने नजदीकी बैंक से जानकारी लेनी होगी।
  • बैंक जाने के बाद आपको सब्सिडी फॉर्म को भरना होगा।
  • यदि आपके आवेदन की लोन की राशि बढ़ी है तो आपको नाबार्ड में अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को जमा करना होगा।
Helpline Number

Leave a Comment