स्वामित्व योजना 2021- Sampatti Card, डाउनलोड प्रॉपर्टी कार्ड | ऑनलाइन आवेदन

PM Swamitva Yojana Sampatti Card Online Registration | प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण संपत्ति कार्ड (Property Card)

देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना का आरम्भ किया गया है, इस योजना के अनुसार देश में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति की भूमि का सभी रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण ई ग्राम स्वराज पोर्टल पर किया जायगा, तथा भूमि की नपाई के लिए मैपिंग की जायगी | स्वामित्व योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा एक प्रॉपर्टी कार्ड भी प्रदान किया, जिसमे भूमि का सभी रिकॉर्ड का लेखा जोखा किया जायगा और साथ ही किसी भी बैंक से लोन प्राप्त कर सकेंगे | आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2021 के लाभ, उद्देश्य, मुख्य तथ्य, मुख्य विशेषताएं तथा प्रॉपर्टी कार्ड के पंजीकरण की प्रक्रिया इत्यादि अपनी पोस्ट में विस्तारपूर्वक बताने जा रहे है, सभी जानकारी के लिए हमारी पोस्ट को अंत तक पढ़े |

स्वामित्व योजना 2021- Sampatti Card, डाउनलोड प्रॉपर्टी कार्ड | ऑनलाइन आवेदन

Table of Contents

PM Swamitva Yojana Sampatti Card

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अनुसार अभी तक केवल ई ग्राम स्वराज पोर्टल पर भूमि का रिकॉर्ड चेक कर सकते थे, लेकिन आज दिनांक 11 अक्टूबर 2020 दिन रविवार को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक प्रॉपर्टी कार्ड को लॉन्च किया है, देश के लगभग एक लाख भू धारकों के मोबाइल पर एक लिंक भेजा जायगा, जिसके द्वारा वे सभी व्यक्ति उस लिंक पर क्लिक करके अपना डिजिटल संपत्ति कार्ड डाउनलोड कर सकते है| आपको बता दे की इस Property Card के जरिये आज ही 763 गावों (जैसे हरियाणा के 221, उत्तर प्रदेश के 346, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44 तथा उत्तराखंड 50) के 1.32 लाख लोग सरकार द्वारा भेजे गए लिंक के माध्यम से अपना डिजिटल संपत्ति रिकॉर्ड डाउनलोड कर सकते है |

स्वामित्व योजना के तहत 2.30 लाख संपत्ति कार्ड

अब तक इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 2.30 लाख प्रॉपर्टी कार्ड बांटे जा चुके हैं। केंद्रीय पंचायती राज मंत्रालय में सचिव अनिल कुमार जी के द्वारा कहा गया कि 31 जनवरी 2021 तक लगभग 23300 गांव में ड्रोन सर्वे किया जा चुका है और लगभग 1432 गांव में 2.30 लाख संपत्ति कार्ड भी बांटे जा चुके हैं। उनके द्वारा बताया गया कि अब तक 90 परसेंट से अधिक विवादों का निपटारा इन गांव के अंतर्गत हो चुका है और आगे उम्मीद है कि 90 से 95 फ़ीसदी विवाद सुलझाए जाए।

9 राज्यों में आरंभ हुई स्वामित्व योजना

जैसे कि हम सब जानते हैं हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना को आरंभ किया गया है तथा इस योजना के माध्यम से गांव के लोगों को उनकी रिहाई से जमीन और मकान का मालिकाना हक और वैध कागजात प्रदान किए जाते हैं। अब तक इस योजना को देश के 9 राज्यों में आरंभ किया गया है जो है आंध्र प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश तथा हरियाणा आदि। इस योजना के माध्यम से इन राज्यों में काफी मदद प्राप्त हुई है जिससे यह योजना अब तक सफलतापूर्वक योजना रही है। स्वामित्व योजना के अंतर्गत देश के 5.41 लाख गांवों को शामिल किया जाएगा जिसके तहत सरकार द्वारा 566.23 करोड़ रुपये निर्धारित कर दिए गए हैं।

PM Swamitva Yojana Sampatti Card

स्वामित्व योजना 200 करोड रुपए का बजट आवंटन

मंत्रालय द्वारा स्वामित्व योजना के लिए 200 करोड़ रुपए का बजट आवंटन कर दिया गया है जबकि पिछले वर्ष इस योजना के अंतर्गत पायलट प्रोजेक्ट पर सरकार द्वारा 79.65 करोड़ रुपए का बजट आवंटन किया गया था। मंत्रालय द्वारा पता चला है कि इस योजना के अंतर्गत अब तक राज्य में करीब 130 ड्रोन टीम की तैनाती की जा चुकी है जिसकी उम्मीद मार्च 2021 तक 500 ड्रोन तैनात किए जाने की है। इस वित्तीय वर्ष का आवंटित बजट पिछले वर्ष से 32 फ़ीसदी ज्यादा है। इस योजना के अंतर्गत 2021-22 तक निर्धारित वित्तीय बजट पर 16 राज्यों के 2.30 लाख गांवों को शामिल किया जाएगा।

पूर्ण देश में 2022 तक CORS नेटवर्क

स्वामित्व योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए तथा जमीन की मैपिंग और जायदाद के आंकड़ों के संगठन के लिए सरकार द्वारा पंजाब राजस्थान हरियाणा और मध्य प्रदेश में 210 कंटिन्यू ऑपरेटिंग डिफरेंस स्टेशन स्थापित किए गए हैं। और आगे उम्मीद है कि मार्च 2021 तक इन स्टेशनों को चालू किया जाएगा तथा CORS नेटवर्क देशभर में 2022 तक लागू किया जाने की आशंका है

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना न्यू अपडेट

स्वामित्व योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा अभी तक सिर्फ 10 जिलों को चुना गया है। दूसरे जिलों का चयन आने वाले वर्षों में सरकार द्वारा किया जाएगा जिसका लाभ ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को प्राप्त होगा। इसी योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को उनकी जमीन का रिकॉर्ड प्रदान किया जाएगा ताकि वह आसानी से बैंक से लोन प्राप्त कर सकें। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा घोषणा की गई है इसके यह पहली बार आवासीय भूमि का सर्वेक्षण किया जा रहा है। इस योजना को अब तक केवल यूपी महाराष्ट्र कर्नाटक का हरियाणा मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में ही लागू किया गया है। 

स्वामित्व योजना के मुख्य तथ्य (Highlight Of Swamitva)

योजना का नामप्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2021
आराम्भित योजनादेश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
पंजीकरण की तिथिजारी है
योजना की आराम्भित दिनांक24 अप्रैल 2020
पंजीकरण की अंतिम तिथिअभी घोषित नहीं की गयी
योजना का विभागपंचायती राज मंत्रालय
विभाग की आधिकारिक वेबसाइटwww.panchayat.gov.in/hi/web/guest/home
योजना का उद्देश्यदेश के प्रत्येक व्यक्ति की भूमि का डिजिटल रिकॉर्ड तथा कार्ड की सहायता से किसी भी बैंक से आसानी से लोन प्रदान करना |
ई स्वराज पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइटegramswaraj.gov.in
योजना का लाभभू मालिकों को उनका मालिकाना हक़ प्रदान किया जायगा तथा आसानी से लोन ले पायगे
योजना के लाभार्थीदेश के सभी लोग
कार्ड का नामसंपत्ति कार्ड (Property Card)
कार्ड का आरम्भपीएम मोदी जी ने
आवेदन का प्रकारऑनलाइन पंजीकरण
कार्ड की आराम्भित तिथि11 अक्टूबर 2020
प्रॉपर्टी कार्ड के मिलने की अंतिम तिथिअभी घोषित नहीं की गयी

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड (Property Card) संपत्ति कार्ड

आप सभी लोग जानते है की स्वामित्व योजना को सरकार द्वारा हमारी संपत्ति का सारा रिकॉर्ड तथा भू मालिकों को उनका मालिकाना हक प्रदान करने के लिए देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा आरम्भ किया गया है जिससे की देश के सभी लोगो का भू रिकॉर्ड एक पोर्टल पर हो सके तथा वाद विवादों में आसानी से फैसला किया जा सके लेकिन अब इसमें बद्लाव करके आज 11 अक्टूबर 2020 को संपत्ति कार्ड लॉन्च कर दिया गया है और ये कार्ड प्रत्येक प्रॉपर्टी के मालिक के पास डिजिटल रूप से उपलब्ध करना भी शुरू कर दिया गया है| Property Card की सहायता से आप आसानी से अपनी किसी भी प्रोपर्टीका रिकॉर्ड आसानी से चेच कर सकते है तथा संपत्ति कार्ड की मदद से किसी भी बैंक से आसानी से लोन भी प्राप्त कर सकते है |

PMAY Affordable Rental Housing Scheme

स्वामित्व योजना क्या है

ग्रामीण क्षेत्रों का रिकॉर्ड सरकार के पास न होने की वजह से आयदिन जमीनों के ऊपर वाद-विवाद होते रहते है इन सभी परेशानी तथा विवादों का आसानी से निपटारा करने के लिए भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को आरम्भ किया गया है | भूमि का सभी रिकॉर्ड ऑनलाइन करने के लिए पहले सरकार द्वारा ई ग्राम स्वराज पोर्टल को लॉन्च किया गया था लेकिन अब इसमें अपडेट करके मोदी सरकार द्वारा एक कार्ड लॉन्च कर दिया गया है इस कार्ड का नाम प्रॉपर्टी कार्ड या संपत्ति कार्ड कह सकते है | अब आबादी की भूमि का सभी रिकॉर्ड आप अपने मोबाइल फ़ोन की सहायता से एक क्लिक में प्राप्त कर सकते है |

स्वामित्व योजना का उद्देश्य (Objective Of Swamitva)

प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के द्वारा स्वामित्व योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य देश के सभी लोगो की जमीनों की डिजिटल तरीके से देख-रेख करना, तथा उस जमीन की वजह से होने वाले विवादों का निपटारा करना | आप सभी लोग जानते है की 24 अप्रैल को देश में पंचायती राज दिवस मनाया जाता है लेकिन इस बार लॉकडाउन की वजह से प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को आरम्भ करके ख़ुशी जाहिर की गयी | Swamitva Yojana के उद्देश्य के तहत देश के सभी लोगो की भूमि की मैपिंग की जायगी तथा विवादों को ख़तम किया जायगा और भू मालिकों को उनकी सभी जमीनों का मालिकाना हक प्रदान किया जायगा | इस योजना के तहत सरकार की और से एक संपत्ति कार्ड प्रदान किया जायगा जिससे भू मालिक अपनी किसी भी जमीन का रिकॉर्ड घर बैठे ऑनलाइन अपने मोबाइल पर चेक कर पायगे |

स्वामित्व योजना 2021- Sampatti Card, डाउनलोड प्रॉपर्टी कार्ड | ऑनलाइन आवेदन

योजना का लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना का सबसे अधिक लाभ जमीनों के विवादों का निपटारा करने के लिए हो सकेगा |
  • अब ग्रामीण क्षेत्रों के लोगो को भी किसी भी बैंक से आसानी से लोन प्राप्त हो सकेगा |
  • ड्रोन मैपिंग के माध्यम से सभी जमीनों का लेखा-जोखा किया जायगा |
  • जमीनों का सारा रिकॉर्ड अब जमीनों के मालिकों के पास ऑनलाइन अपने मोबाइल के द्वारा देखा जा सकेगा |
  • आज से 5 साल पहले जब इस योजना को भारत सरकार द्वारा लॉंन्च किया गया था तब 100 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड के माध्यम से जोड़ा गया था |
  • लेकिन अब 1.32 लाख ग्राम पंचायतों को एक साथ इंटरनेट के माध्यम से जोड़ दिया गया है |
  • देश के 6 राज्यों में इस योजना को लागू कर दिया गया है, लेकिन 2024 तक Swamitva Yojana का लाभ देश के सभी गावों तक पहुंचाया जा सकेगा |

Central Government Scheme 2021

एक लाख भू-मालिकों को मिलेगा प्रॉपर्टी कार्ड

स्वामित्व योजना के तहत सरकार द्वारा 11 अक्टूबर 2020 दिन रविवार को 11 बजे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा एक लाख संपत्ति कार्ड बाटे जायगे | आपको बता दे की सरकार द्वारा एक बटन दबाते ही देश के एक लाख व्यक्तियों के मोबाइल पर एक लिंक भेजा जायगा, भू-मालिकों के द्वारा उस लिंक पर क्लिक करते ही उनके सामने एक पेज खुलकर आ जायगा उस पेज पर एक डिजिटल प्रॉपर्टी कार्ड खुल कर आ जायगा |

सरकार द्वारा स्वामित्व योजना को आरम्भ करने की वजह

आप सभी लोग जानते है की ग्रामीण लोगो के पास अपनी खेती की जमीनों के कागजात तो थे लेकिन रिहाइश की जमीनों के कागजात नहीं थे जिससे आयदिन देश में लोगो के बीच वाद-विवाद और अधिक बढ़ता ही जा रहा था, ऐसे में सरकार द्वारा स्वामित्व योजना का आरम्भ किया गया, इस योजना के अंतर्गत सरकार सभी को अपनी प्रॉपर्टी के मालिकाना हक़ के तोर पर एक डिजिटल प्रॉपर्टी कार्ड प्रदान करेगी, जो इस बात का सबूत होगा की ये संपत्ति किसकी है | संपत्ति कार्ड के माध्यम से देश में हो रहे सभी वाद-विवाद को ख़तम किया जा सकेगा |

स्वामित्व योजना के तहत सरकार की प्लानिंग

योजना के तहत सरकार की प्लानिंग 4 साल (अप्रैल 2020 से मार्च 2024) की है स्वामित्व योजना से सरकार का स्पष्ट आशय विवादों को ख़तम करना है क्युकी आप सभी जानते है की भूमि को लेकर देश में रोज कितने वाद विवाद होते है, यदि सभी लोगो के पास उनकी संपत्ति का रिकॉर्ड उनके पास उपलब्ध रहेगा तब कोई भी विवाद नई हो सकेगा | इस मोदी सरकार ने देश के सभी लोगो को संपत्ति कार्ड बाटने का फैसला किया है, और साथ ही पुरे देश में 300 नियमित प्रचालन प्रणाली स्टेशन भी बनवाये जायगे, जो ड्रोन के माध्यम से मैपिंग (जमीन की पैमाइश) करने में मदगार साबित होंगे |

स्वामित्व योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सर्वप्रथम आपको स्वामित्व योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
स्वामित्व योजना 2021- Sampatti Card, डाउनलोड प्रॉपर्टी कार्ड | ऑनलाइन आवेदन
  • अब आपके सामने होपेज खुलकर आ जायगा |
  • होमपेज पर आपको New Registration विकल्प पर क्लिक करना है |
  • आप आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जायगा |
  • इस फॉर्म में आपके बारे में कुछ जानकारी पूछी जायगी |
  • फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी को भरने के बाद नीचे दिए गए Submit विकल्प पर क्लिक करें |
  • अब आप Swamitva Yojana के तहत ऑनलाइन आवेदन कर चुके है |

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड प्रक्रिया

देश के जितने लोग Swamitva Yojana के तहत प्रॉपर्टी कार्ड को ऑनलाइन डाउनलोड करना चाहते है वे सभी लाभार्थी नीचे दी गयी डाउनलोड की ऑनलाइन प्रक्रिया का पालन करके इस योजना का लाभ उठा सकते है है |

  • आपको बता दे की जिस तरह से अन्य सरकारी कार्ड या योजनाओं के कार्ड डाउनलोड किये जाते ये ये उस प्रकार से नई होगा |
  • यदि आप प्रॉपर्टी कार्ड को डाउनलोड करना चाहते है तो उस समय का इंतजार करे जब देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा एक बटन दबाते ही लगभग एक लाख लोगो के पास उनके मोबाइल पर एक लिंक आएगा |
  • उस लिंक पर क्लिक करते ही आपका संपत्ति कार्ड डाउनलोड हो जायगा |
  • तथा कुछ समय बाद ग्राम पंचायतों द्वारा प्रॉपर्टी कार्ड को वितरित किया जा सकेगा |

संपर्क करे (Contact Us)

हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको स्वामित्व योजना के बारे में सभी जानकारी बता दी है यदि आपको फिर भी कोई परेशानी है या कोई और जानकारी लेना चाहते है तब आप egramswaraj@gov.in पर संपर्क कर सकते है |

स्वामित्व योजना 2021- Sampatti Card, डाउनलोड प्रॉपर्टी कार्ड | ऑनलाइन आवेदन

Leave a Comment