UP CM Fellowship Yojana 2023- मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन व लाभ

मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन और UP CM Fellowship Yojana एप्लीकेशन फॉर्म एवं एप्लीकेशन स्टेटस व लॉगिन प्रक्रिया देखे

सरकार द्वारा शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास किया जाता है। जिसके लिए सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन करती है। हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी सीएम फैलोशिप योजना लांच की गई है। इस योजना के माध्यम से रिसर्च विद्यार्थियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस लेख में हम आपको UP CM fellowship Yojana 2023 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करेंगे। आप इस लेख को पढ़कर ना केवल इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया से अवगत हो सकेंगे। इसके अलावा आपको इस योजना की पात्रता तथा अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों से भी अवगत करवाया जाएगा। तो आइए जानते हैं कैसे प्राप्त करें इस योजना का लाभ।

Table of Contents

UP CM Fellowship Yojana 2023

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी सीएम फैलोशिप योजना लांच की गई है। इस योजना के माध्यम से रिसर्च विद्यार्थियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह फेलोशिप ₹30000 प्रतिमाह की होगी। इस योजना के अंतर्गत 100 युवाओं को चयनित किया जाएगा। यह युवा सरकारी नीति, प्रबंधन कार्यान्वयन आदि में सरकार की सहायता करेंगे। इन सभी रिसर्च fellows से सरकार द्वारा यह अपेक्षा की जाएगी की फेलोशिप अवधि के दौरान किसी भी प्रकार का अन्य रोजगार या सेवा अथवा अध्ययन ना करें। इस योजना के संचालन से सरकार रिसर्च का कार्य कर सकेगी। लाभार्थियों को प्रतिमाह ₹10000 भी प्रदान किए जाएंगे।

इसके अलावा टेबलेट खरीदने के लिए ₹15000 की राशि भी प्रदान की जाएगी। वह सभी युवा जो UP CM Fellowship Yojana के अंतर्गत चयनित किए जाएंगे उनको एक साल की अवधि तक के लिए रिक्रूट किया जाएगा। यदि डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट या डेवलपमेंट ऑफिसर को उनका काम पसंद आता है तो उनकी अवधि को 1 साल से ज्यादा भी बढ़ाया जा सकता है। यह योजना प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाएगी। इसके अलावा युवाओं को शिक्षा की तरफ प्रोत्साहित करने में भी यह योजना कारगर साबित होगी।

यह भी पढ़े: UDISE Plus Portal

यूपी सीएम फैलोशिप योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य रिसर्च fellow के माध्यम से राज्य में चल रहे कार्यक्रमों तक नागरिकों की पहुंच सुनिश्चित करना है।
  • इस योजना के अंतर्गत शोधार्थियों द्वारा रिसर्च की जाएगी एवं उनके माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सभी योजनाओं का लाभ निर्धारित लाभार्थियों तक पहुंच रहा है या नहीं।
  • इसके अलावा इस योजना के संचालन से यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि योजनाएं सही प्रकार से संचालित की जा रही हैं या नहीं।
  • यूपी सीएम फैलोशिप योजना के माध्यम से चयनित किए गए युवाओं को ₹30000 प्रति माह की राशि प्रदान की जाएगी।
  • जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा एवं वे आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • यह योजना लाभार्थियों के जीवन स्तर को सुधारने में भी कारगर साबित होगी।

Key Highlights Of UP CM Fellowship Yojana 2023

योजना का नामयूपी सीएम फैलोशिप योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यरिसर्च को प्रोत्साहित करना
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2023
राज्यउत्तर प्रदेश
आवेदन करने की अंतिम तिथि24 अगस्त 2022

यूपी सीएम फैलोशिप योजना के अंतर्गत क्षेत्र

निम्नलिखित क्षेत्रों में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों का चयन किस योजना के अंतर्गत किया जाएगा।

  • कृषि, ग्रामीण विकास, पंचायती राज एवं संबंधित क्षेत्र
  • वन, पर्यावरण और जलवायु
  • शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता, पोषण एवं कौशल विकास
  • ऊर्जा एवं नवीकरणीय ऊर्जा
  • पर्यटन और संस्कृति
  • डाटा साइंस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, आईटी, आईटीईएस, जैव प्रौद्योगिकी, मशीन लर्निंग डाटा गवर्नेंस आदि
  • बैंकिंग, वित्त एवं कर राजस्व
  • लोक नीति एवं गवर्नेंस

यह भी पढ़े: यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना

UP CM Fellowship Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी सीएम फैलोशिप योजना लांच की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से रिसर्च विद्यार्थियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह फेलोशिप ₹30000 प्रतिमाह की होगी।
  • UP CM Fellowship Yojana के अंतर्गत 100 युवाओं को चयनित किया जाएगा।
  • यह युवा सरकारी नीति, प्रबंधन कार्यान्वयन आदि में सरकार की सहायता करेंगे।
  • इन सभी रिसर्च fellows से सरकार द्वारा यह अपेक्षा की जाएगी की फेलोशिप अवधि के दौरान किसी भी प्रकार का अन्य रोजगार या सेवा अथवा अध्ययन ना करें।
  • इस योजना के संचालन से सरकार रिसर्च का कार्य कर सकेगी।
  • लाभार्थियों को प्रतिमाह ₹10000 भी प्रदान किए जाएंगे।
  • इसके अलावा टेबलेट खरीदने के लिए ₹15000 की राशि भी प्रदान की जाएगी।
  • वह सभी युवा जो इस योजना के अंतर्गत चयनित किए जाएंगे उनको एक साल की अवधि तक के लिए रिक्रूट किया जाएगा।
  • यदि डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट या डेवलपमेंट ऑफिसर को उनका काम पसंद आता है तो उनकी अवधि को 1 साल से ज्यादा भी बढ़ाया जा सकता है।
  • यह योजना प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाएगी।
  • इसके अलावा युवाओं को शिक्षा की तरफ प्रोत्साहित करने में भी यह योजना कारगर साबित होगी।

यूपी सीएम फैलोशिप योजना रिपोर्टिंग

  • इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा शोधार्थियों का चयन किया जाएगा।
  • चयनित शोधार्थियों जिलाधिकारी तथा मुख्य विकास अधिकारी के पर्यवेक्षण में कार्य करेंगे।
  • इस योजना की मासिक प्रगति रिपोर्ट शोधार्थियों द्वारा तैयार की जाएगी।
  • जिसमें नीति एवं योजना के कार्यान्वयन की चुनौतियां और योजना के प्रति नागरिकों के दृष्टिकोण से संबंधित जानकारी होगी।
  • इसके अलावा त्रमासिक प्रगति रिपोर्ट भी तैयार की जाएगी।
  • वार्षिक रिपोर्ट एवं उसका प्रस्तुतीकरण एवं मूल्यांकन किया जाएगा।
  • संग्रहित किए गए डेटा का संकलन प्रस्तुत किया जाएगा।

सीएम फैलोशिप योजना के अंतर्गत भुगतान की जाने वाली राशि

  • शोधार्थियों को इस योजना के अंतर्गत ₹30000 प्रति माह की दर से भुगतान किया जाएगा
  • इसके अलावा अतिरिक्त क्षेत्र भ्रमण हेतु ₹10000 प्रतिमाह भुगतान किया जाएगा
  • टेबलेट खरीदने के लिए शोधार्थियों को ₹15000 की एकमुश्त राशि उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • जिसके माध्यम से शोधार्थी विभागीय योजनाओं एवं कार्यों का अनुश्रवण एवं मूल्यांकन कर सकेंगे।

वार्षिक प्रदर्शन मूल्यांकन

  • इस योजना के अंतर्गत चयनित शोधार्थियों की संबंधित अवधि नियुक्ति की तिथि से 1 वर्ष के लिए मान्य होगी।
  • विभाग की संस्कृति, विषय की आवश्यकता के दृष्टिकोण एवं शोधार्थियों के कार्य के आधार पर इस अवधि को बढ़ाया भी जा सकता है।
  • यदि शोधार्थी द्वारा विस्तृत अवधि के लिए रिसर्च की जाती है तो उनको कोई भी अन्य भुगतान अनुमन्य नहीं होगा।
  • आवंटित कार्यों की निर्धारित अवधि में सफलतापूर्वक संपादित किए जाने पर प्रदेश सरकार की ओर से प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।
  • शोधार्थियों द्वारा 1 वर्ष में 12 अवकाश लिए जा सकते हैं।

यूपी सीएम फेलोशिप योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया

  • चयन के लिए सभी लाभार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • आवेदन के साथ लाभार्थियों को 500 शब्दों में उद्देश्य का विवरण भी अपलोड करना होगा।
  • सभी प्राप्त आवेदनों की स्क्रीनिंग की जाएगी।
  • जिसके पश्चात नियम अनुसार परीक्षण किया जाएगा।
  • एक ईमेल आईडी, फोन नंबर एवं एक नाम से केवल एक ही आवेदन स्वीकृत किया जाएगा।
  • केवल स्नातक स्तर पर वे छात्र जिन्होंने 60% अंक प्राप्त किए हैं एवं स्नातकोत्तर या पीएचडी छात्र ही आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदक की आयु 40 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा आवेदन पत्र का मूल्यांकन किया जाएगा।

सीएम फैलोशिप योजना के अंतर्गत ऑब्जेक्टिव स्कोरिंग

विवरणअधिकतम अंक
उच्चतम शैक्षणिक योग्यता(कुल 25 अंक)स्नातक- 15 अंक स्नातकोत्तर- 20 अंक पीएचडी- 25 अंक
अन्य विधिक मानदंड(कुल 15 अंक)प्रतिष्ठान संस्थान में डिग्री- 3 अंक प्रतिष्ठान राष्ट्रीय/अंतरराष्ट्रीय प्रक्षणों में प्रकाशित शोध कार्य/लेख-3 अंक राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय संस्थान/मंच द्वारा पुरस्कार- 3 अंक संगठनों के साथ स्वयं सेवा- 3 अंक कोई अन्य विशिष्ट उपलब्धि- 3 अंक
प्रासंगिक कार्य अनुभव (कुल 10 अंक)6 माह से 2 वर्ष – 5 अंक 2 वर्ष से अधिक – 10 अंक
योग50 अंक

यूपी सीएम स्कॉलरशिप योजना के अंतर्गत व्यक्तिगत साक्षरता

  • साक्षरता के लिए अभ्यार्थियों को 25 अंक प्रदान किए जाएंगे।
  • साक्षरता के दौरान अभ्यर्थियों को आवेदन पत्र के साथ सभी अभिलेखों को संगलन करना होगा।
  • अभ्यार्थी की शैक्षणिक योग्यता का सत्यापन साक्षरता के समय किया जाएगा।
  • साक्षरता में अभ्यार्थी की वियक्तिगत्ता, सामान्य ज्ञान, कार्य के प्रति उत्साह आदि का आकलन किया जाएगा।
  • योजना के नियमों के अनुसार 100 अभ्यर्थियों का चयन किया जाएगा।
  • 50 अभ्यर्थी को प्रतीक्षा सूची में रखा जाएगा।
  • सामान्य अंक प्राप्त करने वाले अभ्यार्थी में जिस अभ्यर्थी की आयु ज्यादा होगी उसे वरीयता क्रम के ऊपर रखा जाएगा।

UP CM Fellowship Yojana के अंतर्गत प्रशिक्षण कार्यक्रम

  • सभी चयनित किए गए अभ्यर्थियों का 2 सप्ताह तक प्रशिक्षण कराया जाएगा।
  • पहले सप्ताह में सामान्य परिचय एवं दूसरे सप्ताह में कार्यक्रम विषय प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • यह प्रशिक्षण उत्तर प्रदेश प्रशासनिक एवं प्रबंधन एकेडमी लखनऊ के द्वारा किया जाएगा।
  • प्रशिक्षण में आईआईटी एवं आई आई एम जैसे विशेष संस्थानों के विशेषज्ञ आमंत्रित किए जाएंगे जो कि प्रशिक्षण देंगे।

यूपी सीएम फेलोशिप योजना की कुछ अन्य मुख्य शर्ते

  • नियोजन विभाग द्वारा इस योजना का कार्यान्वयन एवं प्रबंधन किया जाएगा।
  • चयनित अभ्यर्थी कार्यक्रम की अवधि के दौरान अन्य रोजगार नहीं कर सकते।
  • कार्यक्रम की अवधि पूरी होने के पश्चात शोधार्थियों को कोई भी स्थाई सेवा या रोजगार प्रदान करने का आश्वासन नहीं दिया गया है।
  • चयनित किए गए अभ्यर्थियों के लिए कार्यालय का समय वही होगा जो उस कार्यालय के अन्य कर्मचारियों के लिए होगा।
  • शोध के दौरान शोधार्थियों द्वारा ज्यादा घंटे काम एवं यात्रा करने की आवश्यकता पड़ सकती है।
  • अभ्यार्थियों को अपना मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट जमा करना अनिवार्य है।
  • चयन के पश्चात अभ्यर्थियों का पुलिस सत्यापन किया जाएगा।
  • चयनित युवाओं को प्रस्ताव पत्र प्राप्त होने के 30 कार्य दिवस के संबंधित कार्यालय में योगदान प्रस्तुत करना होगा।
  • शोधार्थियों द्वारा फेलोशिप कार्यक्रम के दौरान किसी भी राजनीतिक आंदोलन में भाग नहीं लिया जा सकता।

यूपी के विकास खंडों की सूची

क्रमांकविकास खंडजनपद
1 2 3भीटी भियांव टाण्डाअम्बेडकर नगर
4 5 6जगदीशपुर जामों शुकुलबाजारअमेठी
7 8 9 10 11 12 13 14बांसडीह चिलकहर गरवार हनुमानगंज मनियर पन्दह रसड़ा सोहावंबलिया
15 16 17बबेरु बिसण्डा कमासिनबांदा
18कबरईमहोबा
19 20 21 22 23बहेड़ी फतेहगंज मझगांव रिच्छा (दमखौदा) शेरगढ़बरेली
24पूरनपुरपीलीभीत
25 26 27 28हरैया कुदरहा सल्टौवा गोपालपुर विक्रमजोतबस्ती
29 39 31बघौली पौली सांथासंतकबीर नगर
32 33कोतवाली नजीबाबादबिजनौर
34 35 36 37 38 39अम्बियापुर आसफपुर कादरचौक सलारपुर उसवां वजीरगंजबदायूं
40 41 42 43 44   45देवकली मरदाह रेवतीपुर सादात बाराछवार  बिरनोगाजीपुर
46गौरी बाजारदेवरिया
47 48 49बांसगांव ब्रह्मपुर कैंम्पियरगंजगोरखपुर
50विष्णुपुराकुशीनगर
51 52जालौन रामपुराजालौन
53मंडवाराललितपुर
54 55 56अनगढ़ जैथरा सकीटएटा
57 58नवाबगंज राजेपुरफर्रुखाबाद
59 60मछली शहर रामपुरजौनपुर
61औराईसंत रविदास नगर
62 63कौशांबी मंझनपुरकौशांबी
64 65 66बहरिया कोरांव मण्डाप्रयागनगर
67 68 69 70 71 72महाराजगंज मिठौरा नौतनवा निचलौल पनियरा परथावलमहाराजगंज
73 74 75बाभनजोत पन्धरी कृपाल रुपईडीहगोण्डा
76 77निंदूरा पुरेडलईबाराबंकी
78 79 80 81 82हलिया मरिहन (पटेहरा) नगर सिटी पहाड़ी राजगढ़मिर्जापुर
83 84 85 86बांकेगंज धौरहरा ईसानगर रमियाबेहड़खीरी
87सण्डीलाहरदोई
88बिसवांसीतापुर
89 90 91 92 93 94 95राजपुरा संभल असमोली असमोली गुन्नौर जुवई पवांसासंभल
96बैद्यनाथरामपुर
97गंगीरीअलीगढ़
98 99 100गंगीरी गंजडुंडवारा सौरोंकासगंज
यूपी सीएम फेलोशिप योजना की पात्रता
  • आवेदक द्वारा प्रमुख संस्थानों या विश्वविद्यालयों में प्रथम श्रेणी या न्यूनतम 60% अंकों के साथ स्नातक हो एवं उच्च शैक्षिक योग्यता हो।
  • फेलो हिंदी भाषा बोलने एवं लिखने में कुशल होना चाहिए।
  • आवेदक आवेदन पत्र में सूचीबद्ध किसी भी क्षेत्र में प्रासंगिक कार्य अनुभव होना चाहिए।
  • आवेदक कंप्यूटर एवं इंफॉर्मेशन और कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी के साथ काम करने में सक्षम होना चाहिए।
  • वह अभ्यार्थी जो डाटा एनालिसिस में अनुभवी होंगे उनको वरीयता प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक फील्ड वर्क में कार्य करने के इच्छुक होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 40 वर्ष से कम होनी चाहिए।
आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • ग्रेजुएशन मार्क्स सर्टिफिकेट
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आई डी
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि

यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना के अंतर्गत आवेदन करें

UP CM Fellowship Yojana
UP CM Fellowship Yojana
  • अब आपके सामने home page खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको guideline के section के अंतर्गत checkbox पर tick करना होगा।
  • अब proceed के विकल्प पर click करें।
UP CM Fellowship Yojana
Application Form
  • इसके बाद आपकी screen पर एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर पूछी गई जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करें।
  • अब अपना passport size photograph एवं हस्ताक्षर upload करें।
  • इसके बाद submit के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार आप यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।
कैंडिडेट लॉगइन करें
  • सर्वप्रथम यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आपके सामने home page खुलेगा।
  • इसके बाद login के section में जाएं।
  • अब अपना application number, password तथा captcha code दर्ज करें।
  • इसके बाद login के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार आप login कर सकेंगे।

Leave a Comment