उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र 2023: UP Disability Certificate ऑनलाइन आवेदन

उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र 2023 ऑनलाइन आवेदन करे और UP Disability Certificate आवेदन फॉर्म डाउनलोड, आवेदन की स्थिति

वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश सरकार अपने राज्य के नागरिकों को लाभ पहुंचाने के लिए कई प्रकार की योजनाएं लेकर आती है जिसके अंतर्गत दिव्यांग एवं विकलांग लोगों का भी काफी ख्याल रखा जाता है और उनके हित के लिए ही सरकार उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र(UP Disability Certificate) बनाती है जिससे उनको सरकारी नौकरी से लेकर शिक्षा और कई प्रकार की योजनाओं में लाभ प्रदान किया जा सके हालांकि वर्ष 1995 में भारतीय संसद के द्वारा विकलांग और अक्षम लोगों के लिए एक समान अधिकार,अधिकारों का संरक्षण और पूर्ण सभ्यता का कानून पारित करने का कार्य किया गया था

जिसके अंतर्गत कुछ विशेष अधिकारों को निर्धारित किया गया था जिसमें मनोवैज्ञानिक क्षमता को भी मानसिक बीमारी में गिना जाता है इस कानून के अंतर्गत जो शारीरिक तौर पर 40% अक्षम है उन्हें विकलांग श्रेणी में लाभ प्रदान किया जाता है।

UP Disability Certificate 2023

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा विकलांग प्रमाण पत्र उन्हें ही प्रदान किया जाता है जो शारीरिक एवं मानसिक रूप से अक्षम होते हैं और उसके साथ ही साथ 40% तक शारीरिक अंग उनके काम नहीं करते ऐसे में उन व्यक्तियों को सरकार के द्वारा UP Disability Certificate देने का कार्य किया जाता है जिसकी सहायता से वह शिक्षा, सरकारी नौकरी और सरकारी योजनाओं का लाभ  ले सकते हैं आज भी समाज में यह देखने को मिलता है कि जितने भी विकलांग लोग हैं उन्हें सामान्य जीवन जीने में काफी ज्यादा कठिनाई होती है इसी कारण से सरकार ने उन्हें आरक्षण के अंतर्गत विकलांग प्रमाण पत्र देने का कार्य किया है जिससे वह भी अपने शिक्षा को पूरा कर सकें और एक अच्छी नौकरी पा सके जिससे उनका जीवन यापन आसानी से हो सके।

यह भी पढ़े: उत्तर प्रदेश जन्म प्रमाण पत्र

यूपी विकलांग प्रमाण पत्र बनवाने का उद्देश्य

हमेशा से हमें समाज में यह देखने को मिलता है कि जितने भी विकलांग लोग हैं उन्हें काफी लज्जित किया जाता है और उन्हें लज्जा भरी निगाहों से देखा जाता है ऐसे में वह समाज से बिल्कुल अलग-थलग हो जाते हैं जिससे उनकी जीवन यापन पर भी काफी ज्यादा असर पड़ता है और वह ना ही शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ पाते हैं और ना ही उन्हें कोई अच्छी सरकारी नौकरी प्राप्त हो पाती इसके साथ ही साथ वह कई प्रकार की सरकारी योजनाओं से भी वंचित रह जाते थे ऐसे में इन्हीं सब परिस्थितियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें आरक्षण के अंतर्गत UP Disability Certificate जारी करने का तरीका निकाला जिसके द्वारा प्रदेश के सभी विकलांग लोग भी एक सामान्य रूप से शिक्षा,सरकारी नौकरी और सरकारी योजनाओं का लाभ आसानी से ले सकेंगे जिससे उनके जीवन यापन में भी सुधार देखने को मिलेगा।

UP Disability Certificate Highlights

योजना उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र
वर्ष2023
मंत्रालयस्वास्थ्य विभाग,उत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीराज्य के सभी विकलांग नागरिक
उद्देशविकलांग लोगों की स्थिति को सुधारना और उन्हें एक समान रूप से जीवन जीने में सहायता प्रदान करना
शारीरिक अक्षमतालगभग 40%
आधिकारिक वेबसाइट Click Here

उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र से लाभ

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जारी किया जाने वाला UP Disability Certificate के माध्यम से बहुत से लाभ विकलांग लोगों को प्रदान किए जाते हैं जिसके बारे में हम आपको निम्नलिखित बता रहे हैं।

  • जितने भी शारीरिक रूप से अक्षम बच्चे हैं उन्हें सरकार की तरफ से मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाती है।
  • सभी सरकारी नौकरियों में आरक्षण मिलता है
  • सभी प्रकार के शैक्षणिक संस्थाओं में भी आरक्षण प्रदान किया जाता है।
  • सरकार की तरफ से जमीन आवंटन में भी प्राथमिकता दी जाती है
  • सभी प्रकार के सामाजिक सुरक्षा की स्कीम प्रदान की जाती है
  • सभी प्रकार की यात्रा में किराए हेतु छूट प्रदान की जाती है
  • सरकार की तरफ से विकलांगता पेंशन प्रदान की जाती है
  • सभी प्रकार की सरकारी योजनाओं में लाभ प्रदान किया जाता है
  • किसी भी प्रकार के अधिकार से वंचित किए जाने पर तत्काल प्रभाव से करवाई की जाती है।

यह भी पढ़े: दिव्यांगजन शादी विवाह प्रोत्साहन योजना

UP Disability Certificate हेतु पात्रता

यदि आपके उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो उसे बनवाने के लिए सरकार की तरफ से कुछ पात्रता भी निर्धारित की गई है जो कि हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

  • सबसे पहले आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश राज्य का ही मूल निवासी होना चाहिए
  • जिस भी व्यक्ति का विकलांग प्रमाण पत्र बनवाना है वह मानसिक रूप से 35% अक्षम होना चाहिए
  • इसके साथ ही साथ आर्थोपेडिक रूप से 40% अक्षम होना चाहिए
  • यदि विकलांग व्यक्ति बहरा और गूंगा है तो उसकी सीमा 90 DB और 100 DB होनी चाहिए
  • यदि विकलांग व्यक्ति को देखने में समस्या है तो उसकी दृष्टि हीनता 90% होनी चाहिए।
UP Disability Certificate हेतु महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • Aadhaar Card
  • Voter ID Card
  • Medical Report
  • Domicile Certificate
  • Birth Certificate
  • Passport Size Photo
  • Mobile Number

उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन प्रक्रिया

यदि आप UP Disability Certificate बनवाने के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो उसके ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया का तरीका हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र बनवाने के लिए E Sathi की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
UP Disability Certificate
UP Disability Certificate
UP Disability Certificate
Registration Form
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलकर आएगा जिसमें आपसे कुछ जानकारी मांगी जाएगी जिसे आपको दर्ज कर देना होगा
  • इसके बाद आपको Login के Option पर Click कर देना होगा जिसके थोड़ी ही देर बाद आपके Registered Mobile Number पर एक OTP आएगा जिसे दर्ज कर देना होगा।
  • उसके बाद आपको दोबारा से  Login के पेज पर जाकर लॉगइन करना होगा।
  • जहां पर आप को आवेदन भरे के विकल्प पर Click कर देना होगा
  • जिसमें आपके सामने सेवा चूने का Option आएगा जिस में  विकलांग प्रमाण पत्र के विकल्प पर Click कर देना होगा
  • इसके बाद आपके सामने एक Form खुल कर आ जाएगा जिसमें कुछ जानकारियां आप से मांगी जाएगी जैसे नाम,पता,विकलांगता का प्रकार आदि
  • अब आपसे दस्तावेजों को Scan करके Upload करने को बोला जाएगा जिसके बाद आपको Submit के Button पर Click कर देना होगा
  • अब आपको विकलांगता प्रमाण पत्र की सरकारी फीस ₹10 चुकानी होगी जोकि आप ऑनलाइन पेमेंट के द्वारा चुका दें
  • इस प्रकार आपका उत्तर प्रदेश विकलांग प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पूर्ण हो जाएगा जिसके हफ्ते भर के बाद आपके पास Certificate प्रदान कर दिया जाएगा।

Leave a Comment