यूपी किसान कल्याण मिशन 2021- किसान रजिस्ट्रेशन, Mission Kisan Kalyan UP

यूपी किसान कल्याण मिशन 2021 | UP Kisan Kalyan Mission Online Registraton | यूपी किसान कल्याण मिशन रजिस्ट्रेशन | UP Kisan Kalyan Mission Application Form |

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा 6 जनवरी 2021 को यूपी किसान कल्याण मिशन का शुभारंभ लखनऊ में आयोजित एक समारोह के दौरान किया गया। जिसके तहत किसानों की आय दोगुनी करने एवं किसानों की खेती में उपयोग में लाई जाने वाली नई टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी और साथ ही साथ सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से संबंधित सूचनाएं भी प्रदान की जाएंगी। तो आइए आज हम आपको UP Kisan Kalyan Mission से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, जरूरी दस्तावेज एवं ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया बताएंगे। राज्य के जो भी इच्छुक किसान इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो वह हमारी इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

Uttar Pradesh Kisan Kalyan Mission

यूपी किसान कल्याण मिशन शुरू करते हुए लखनऊ के बंथरा में किसान मेले का आयोजन किया गया है। मुख्यमंत्री जी द्वारा किसानों को संबोधित करते हुए नए कृषि कानूनों के फायदे बताएं। इस मिशन के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के सभी 824 विकास खंडों में 6 जनवरी से 21 जनवरी तक यह कार्यक्रम चलाए जाएंगे। यह कार्यक्रम 3 चरणों में किया जाएगा। UP Kisan Kalyan Mission के तहत 6 जनवरी को प्रदेश के 303 ब्लॉक में कार्यक्रम किए जा रहे हैं। अगले हफ्ते भी 303 ब्लॉक में कार्यक्रम होंगे, जबकि 21 तारीख को 201 विकास खंड में किसान उपयोगी प्रदर्शन, कृषि मेले, वैज्ञानिक वार्ता और प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया जाएगा।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021

  • अभियान 6 जनवरी से शुरू होकर अगले तीन सप्ताह तक चलेगा।
  • इसके तहत कृषि आधारित गतिविधियां जैसे पशुपालन, बागवानी आदि भी शामिल की गई हैं।
  • पीएम मोदी जी के सपने को पूरा करने के लिए 2022 तक किसानों की आय को दोगुनी करना है,
  • इसलिए किसानों के हित के लिए कई जगह जनकल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं।
  • यूपी किसान कल्याण मिशन के अंतर्गत प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत आधार नंबर, नाम या ऐसी किसी गलती को सुधारने के लिए अलग से शिविर लगाए जाएंगे।
यूपी किसान कल्याण मिशन

यूपी एफपीओ शक्ति पोर्टल का शुभारंभ

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसान कल्याण मिशन के एक भाग के रूप में यूपी एफपीओ शक्ति पोर्टल को 21 मार्च 2021 में आरंभ किया गया। इस पोर्टल को बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन से तकनीकी और वित्त पोषण सहायता के साथ विकसित किया गया है। इस पोर्टल को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि जमीनी स्तर पर किसानों को लाभ पहुंचाया जाए। इस पोर्टल का उपयोग करके किसान निर्माता संगठन केंद्र पोर्टल किसानों उत्पादक समूह व्यापारियों और कृषि और अन्य संबंधित विभागों को एक मंच पर लाया जाएगा। इस पोर्टल के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है राज्य के जो इच्छुक किसान इस पोर्टल का लाभ प्राप्त करना चाहता हैं उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ जी की घोषणा

यूपी एफपीओ शक्ति पोर्टल के शुभारंभ पर सीएम योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा कृषि विभागों के प्रयासों की सराहना की गई। मुख्यमंत्री जी द्वारा कहा गया कि उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग के लिए एफपीओ पोर्टल को आरंभ किया गया है। इससे पहले भी यूपी ने विभिन्न कृषि सुधारों और राज्य सरकार की शुरुआत करने में एक मिसाल कायम की है। और यह देश का पहला पोर्टल है जो पूरी तरह से केवल किसानों के लिए ही समर्पित किया गया है।

एफपीओ शक्ति पोर्टल के लाभ

राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया किसान कल्याण मिशन के भाग में यूपी एफपीओ शक्ति पोर्टल के कुछ लाभ इस प्रकार हैं

  • किसानों को उनके बाजार आधार का विस्तार करने में सक्षम बनाना
  • मंडियों पर निर्भरता कम करना
  • राष्ट्रीय और ट्रांस सीमा व्यापार की सुविधा उपलब्ध कराना

यूपी एफपीओ शक्ति पोर्टल की जानकारी

अब उत्तर प्रदेश के किसान यूपी एफपीओ पोर्टल का उपयोग करके संगठनों को बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज डाउनलोड कर सकेंगे। प्रत्येक एफपीओ का अपना खंड होगा जिसमें इसके सदस्यों का विवरण शामिल होगा। इसके साथ-साथ पोर्टल पर एफपीओ उनकी प्रमुख गतिविधियों संगठनात्मक संरचना और उत्पादन की सभी जानकारी भी उपलब्ध होगी।

Objective Of UP Kisan Kalyan Mission

यूपी किसान कल्याण मिशन का मुख्य उद्देश्य यही है कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना किया जाए जिससे कि उन्हें ना तो कर्ज लेने की जरूरत पड़े और ना ही आत्महत्या जैसे कदम उठाने पड़े। यूपी किसान कल्याण मिशन के तहत किसानों को खेती करने के लिए नई नई टेक्नोलॉजी के उपयोग की जानकारी एवं सरकारी योजनाओं से संबंधित जानकारियां प्रदान की जाएंगी। यह तो हम बहुत अच्छे से जानते हैं कि देश का किसान किस तरह से कर्ज में डूबा हुआ है इसीलिए सरकार द्वारा किसानों के विकास के लिए समय-समय पर नई-नई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। यूपी किसान कल्याण मिशन के अलावा भी बहुत सारी सरकारी योजनाओं से किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है।

यूपी किसान कल्याण मिशन के मुख्य तथ्य

योजना का नामयूपी किसान कल्याण मिशन 2021
कब आरंभ हुई6 जनवरी 2021
किसके द्वारा आरंभ हुईयूपी मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा
योजना का उद्देश्यकिसानों को खेती में इस्तेमाल की जाने वाली नई नई टेक्नोलॉजी एवं सरकारी योजनाओं की सूचना प्रदान करना
योजना का लाभ किसानों की आय में वृद्धि
लाभार्थीराज्य के किसान
राज्यउत्तर प्रदेश
आवेदन के प्रकारऑनलाइन आवेदन
Official websiteअभी जारी नहीं

UP Kisan Karj Rahat List 2021

कई योजनाओं से लाभान्वित किसान

UP Kisan Kalyan Mission को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि 2.35 करोड़ किसान यूपी में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ उठा रहे हैं। पिछले साढ़े तीन साल में एक लाख 15 हजार करोड़ रुपए गन्ना मूल्य का भुगतान कराया गया है। यह रकम इतनी बड़ी है, जितना कुछ राज्यों का वार्षिक बजट नहीं होता है। उन्होंने कहा कि 2014 के बाद जब किसान देश के राजनीतिक एजेंडा का हिस्सा बना, केंद्रीय सरकार ने किसानों के हित के लिए इस प्रकार के कार्यक्रम और योजनाएं बनाई आज इसका परिणाम है कि किसान आत्महत्या नहीं कर रहा है। ईमानदारी से किसानों के लिए अब शासन से नीतियां बनती हैं।

यूपी किसान कल्याण मिशन
  • यह कार्यक्रम किसानों के जीवन में खुशहाली लाने के लिए किया जा रहा है
  • और जब अन्नदाता हमारा खुशहाल होगा तो हमारा देश स्वयं खुशहाल हो जाएगा।
  • पीएम फसल योजना के माध्यम से नुक़सान हुए फसल का पैसा कोई भी किसान ले सकता है।
  • किसान की लागत को कम करने और उत्पादन को बढ़ाने में कई तकनीक अब देखने को मिल रही है।

(KVP) किसान विकास पत्र योजना 2021

कृषि कल्याण केंद्र

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में वर्तमान में 53 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद हो चुकी है। इसे हम फरवरी तक चलाएंगे तो आगे चलकर स्टोरेज की दिक्कत होगी। लेकिन अगर केंद्र सरकार के एक लाख करोड़ रुपए कृषि इंफ्रास्ट्रैक्चर के तहत ब्लॉक स्तर पर गोदाम बन जाएं तो वहां का अनाज आसानी से रखा जा सकता है। इसके लिए सरकार सब्सिडी भी दे रही है। किसानों भाइयों से अपील की है कि ड्रिप इरीगेशन का भी इस्तेमाल करें इसमें सरकार काफी छूट देती है। “इससे उत्पादन ज्यादा होगा और लागत कम आएगी।” इस अवसर पर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा, “आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के किसानों को 100 कृषि कल्याण केंद्र प्रदेश को समर्पित किया है”।

Uttar Pradesh Kisan Kalyan Mission
  • इसके साथ ही 99 कृषि परियोजना का भी शिलान्यास गया है।
  • किसानों को प्रदेश में किसानों को कृषि यंत्रों पर 80 फीसदी तक सब्सिडी मिल रही है।
  • फार्म मशीनरी और कस्टम हायरिंग सेंटर के जरिए किसानों को लाभ दिए जा रहे हैं।
  • सिंचाई के संसाधनों को बढ़ाया जा रहा है।
  • ड्रिप और माइक्रो इरीगेशन पर सब्सिडी दी जा रही है।

“सरकार की कोशिश है कि हर किसान के खेत तक पहुंचे, लंबे अरसे लंबित पड़ी सिंचाई योजनाओं में कुछ पूरी हो गई है। जबकि बाकी तेजी से काम जारी है जो साल 2021-22 तक पूरी हो जाएंगी, जिससे प्रदेश में करीब 25 लाख हेक्टेयर में सिंचाई की सुविधा बढ़ेगी।”

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2021

यूपी किसान कल्याण मिशन की विशेषताएं

  • UP Kisan Kalyan Mission तहत कृषि आधारित गतिविधियां जैसे पशुपालन, बागवानी, गन्ना आदि कृषि आधारित उद्योग शामिल किए गए हैं।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत आधार, नाम से संबंधित गलतियों को सुधारने के लिए अलग से शिविर लगाए जाएंगे।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए किसान कल्याण मिशन में कृषि और किसानों से जुड़ी सभी केंद्र व राज्य योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। इसमें बागवानी, मंडी परिषद, पशुपालन विभाग, गन्ना, खाद्य एवं आपूर्ति, मत्स्य पालन और पंचायती राज विभाग भी सहभागिता करेंगे।
  • UP Kisan Kalyan Mission के तहत गोष्ठी, प्रदर्शनी, मेला प्रत्येक विकास खंड में आयोजित किए जाएंगे।
  • किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड की स्वीकृति पत्र भी प्रदान जाएंगे।

यूपी किसान कल्याण मिशन के लाभ

  • केंद्र सरकार के आत्मनिर्भर पैकेज में किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के संयोजन तथा इसके माध्यम से सामान्य सुविधा केंद्रों के विकास के साथ ही कृषि आधारित लघु एवं मध्यम उद्योगों के संबंध में कार्ययोजना बनाई जाएगी।
  • प्रत्येक विकास खंड में एफपीओ का गठन कर विस्तृत कार्ययोजना बनाई जाएगी।
  • एफपीओ के माध्यम से किसानों के कल्याण के लिए कई गतिविधियां शुरू की जाएंगी।
  • कृषि विभाग द्वारा किसान कल्याण माइक्रो साइट का निर्माण कराया जाएगा।
  • लाभार्थीपरक योजनाओं यथा-किसान क्रेडिट कार्ड, बैकयार्ड सुअर पालन, अंडा उत्पादन, बायलर पालन एवं पशुधन बीमा योजना आदि के स्वीकृति पत्र अथवा सहायता का वितरण इन मेलों के दौरान कराया जाएगा। 
  • किसान कल्याण अभियान के तहत कितने किसानों से संपर्क स्थापित किया गया यह सूचना जिला स्तर पर एकत्र की जाएगी।
  • किसानों के फोन तथा व्हाट्सअप नंबर भी सूचीबद्ध किए जाएंगे।
  • अभियान के मुख्य रूप से तीन भाग होंगे। पहला कृषि व सहवर्गी सेक्टर की वृहद् प्रदर्शनी, दूसरा किसान गोष्ठी तथा तीसरा विभिन्न विभागों द्वारा कृषि कल्याण की संचालित योजनाओं के लाभार्थियों को मौके पर ही योजना से लाभान्वित किया जाना।
  •  2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लिए ही किसानों के हित एवं विकास के लिए बहुत सारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है।
  • चलाई जा रही योजना के माध्यम से किसानों ने आत्महत्या की संख्या में भी कमी आई है।
Uttar Pradesh Kisan Kalyan Mission

यूपी किसान कल्याण मिशन में आवेदन करने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश के जो भी किसान यूपी किसान कल्याण मिशन के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो उन्हें हम बताना चाहेंगे कि आपको अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि अभी तक UP Kisan Kalyan Mission की वेबसाइट को लांच नहीं किया गया है। जैसे ही ऑफिशल वेबसाइट लांच की जाएगी वैसे ही हम आपको अपनी इस पोस्ट के माध्यम से इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया बताएंगे। तब तक आपको थोड़ा इंतजार करना होगा।

Nationa Portal Of India- india.gov.in

Leave a Comment