Bihar Khatiyan Online 2023: बिहार खतियान, ऑनलाइन म्युटेशन जिलेवार कैसे निकाले

Bihar Khatiyan Online 2023 Kaise Nikale | ऑनलाइन म्युटेशन जिलेवार देखने की प्रक्रिया | Bihar Khatiyan PDF Format Download |

बिहार राज्य सरकार अपने राज्य के नागरिकों एवं किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए कई प्रकार की योजनाओं का संचालन करती हैं जिससे उन सभी लोगों को व्यवस्थित रूप से सुविधाएं प्राप्त हो सके। इसी क्रम में अब लोगों को ऑनलाइन माध्यम से बिहार खतियान और म्यूटेशन जिलेवार कैसे निकालते हैं उसकी भी सुविधा उपलब्ध करा दी है जिसके लिए अब आसानी से घर बैठे हुए ऑनलाइन माध्यम से Bihar Khatiyan से संबंधित जानकारियों को देख सकेंगे तो आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बिहार खतियान ऑनलाइन 2023 से संबंधित जानकारियां प्रदान करेंगे जिससे यदि आपको अपनी भूमि से संबंधित जानकारी चाहिए तो आप आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

Bihar Khatiyan

बिहार खतियान एक प्रकार का ऐसा दस्तावेज होता है जिसके अंतर्गत जमीन और मौजे का पूरा विवरण दर्ज होता है जिसमें खतियान धारी किसान का नाम, पिता का नाम, मौजा, जाति, अंचल,राज्य, खाता/खसरा नंबर,जमीन की चौहद्दी, जमीन का स्वरूप, जमाबंदी नंबर आदि की जानकारी दर्ज रहती है और साथ ही साथ इस खतियान में उस जमीन का क्षेत्रफल एकड़,डेसिमल और हेक्टेयर के रूप में वर्णित रहता है। पहले बिहार में खतियान दस्तावेज की जो प्रक्रिया होती थी ऑफलाइन माध्यम से होती थी जिस कारण से अलग-अलग व्यक्तियों की जमीन, खेत तथा अन्य जानकारियों को कागजी रूप में संभाल कर रखना काफी ज्यादा कठिन माना जाता था इन्हीं सब असुविधा को देखकर बिहार सरकार ने Bihar Khatiyan प्रक्रिया की शुरुआत की जिसके माध्यम से आप सभी चीजों को ऑनलाइन कर दिया गया है इससे अब नागरिकों को और भी सहयोग प्रदान की जा सकेगी।

यह भी पढ़े: बिहार अपना खाता 

खतियान के कितने प्रकार है?

बिहार सरकार ने खतियान Online माध्यम से कर देने से व्यवस्था में पारदर्शिता लाने का कार्य किया है और राज्य की भूमि को ठीक प्रकार से बांटने के लिए Bihar Khatiyan को पांच अलग-अलग प्रकारों में विभाजित किया है जिसके बारे में हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

रैयती खतियान

बिहार खतियान का पहला जो प्रकार है वह रैयती खतियान है जिसके अंतर्गत सामान्य भूमि को रखा गया है यानी कि सामान्य भूमि धारियों का विवरण जिस खतियान के अंतर्गत लिखा जाता है उसे रैयती खतियान कहते हैं।

सिकमी खतियान

उसके बाद नंबर आता है सिकमी खतियान का जो कि बिहार खतियान का दूसरा प्रकार होता है जिसके अंतर्गत बटाई, हुंडा और चैथाई के रूप प्रदान किए जाते हैं और जमीन का विवरण पूर्ण रूप से दर्ज होता है।

मुस्त्वाहा खतियान

पहले के जमाने में जब लोगों को दान,इनाम के रूप में जमीन भेंट की जाती थी या ऐसे किसी उपहार के तौर पर भूमि को दिया जाता था तो भूमि का खतियान मुस्त्वाहा खतियान के अंतर्गत दर्ज होता था।

मुक्त तनाजा खतियान

राज्य की जितनी भी जमीन विवाद की स्थिति में होती हैं या फिर उस जमीन का फैसला अभी तक कोर्ट के माध्यम से नहीं हुआ रहता है और उसे विवादित घोषित किया जा चुका होता है तो ऐसी जमीन का जो खतियान दर्ज होता है उस खतियान को मुक्त तनाजा खतियान के तौर पर जाना जाता है।

बिहार सरकार का खतियान

इस खतियान के अंतर्गत बिहार राज्य की जितनी भी सरकारी जमीन है जैसे तालाब,छोटा जंगल,छोटा नदी, छोटा बांध, जलाशय,पुरानी पार्टी, लावारिस जमीन आदि का विवरण बिहार राज्य सरकार के खतियान में लिखा जाता है जिस पर राज्य सरकार का मालिकाना हक दर्ज होता है।

Key Highlights of Bihar Khatiyan 2023

लेख Bihar Khatiyan Online 2023
शुभारंभबिहार राज्य सरकार द्वारा
विभागभूमि और राजस्व विभाग,बिहार सरकार
लाभार्थीराज्य के सभी किसान एवम नागरिक
उद्देश्यनागरिकों को ऑनलाइन माध्यम से खतियान की जानकारी प्रदान करना
प्रक्रियाऑनलाइन माध्यम
आधिकारिक वेबसाइट Click Here
बिहार के किन किन जिलों का खतियान निकल सकते है?
  • औरंगाबाद(Aurangabad)
  • अररिया(Araria)
  • अरवल(Arwal)
  • भागलपुर(Bhagalpur)
  • बेगूसराय(Begusarai)
  • बक्सर(Buxar)
  • बांका(Banka)
  • पूर्व चंपारण(East champaran)
  • भोजपुर(Bhojpur)
  • दरभंगा(Darbhanga)
  • गया(Gaya)
  • गोपालगंज(Gopalganj)
  • जमुई(Jamui)
  • जहानाबाद(Jehanabad)
  • कटिहार(Katihar)
  • कैमूर(Kaimur)
  • खगडिया(Khagaria)
  • किशनगंज(Kishanganj)
  • लखीसराय(Lakhisarai)
  • मधेपुरा(Madhepura)
  • मधुबनी(Madhubani)
  • मुज़फ़्फ़रपुर(Muzaffarpur)
  • मुंगेर(Munger)
  • नालंदा(Nalanda)
  • नवादा(Nawada)
  • पटना (Patna)
  • पूर्णिया(Purnea)
  • रोहतास(Rohtas)
  • सीतामढ़ी(Sitamarhi)
  • शेखपुरा(Sheikhpura)
  • सहरसा(Saharsa)
  • वैशाली(Vaishali)
  • शिवहर(Sheohar)
  • सारण(Saran)
  • समस्तीपुर(Samastipur)
  • सुपौल(Supaul)
  • सिवान(Siwan)
  • पश्चिम चंपारण(West champaran)

Bihar Khatiyan को ऑनलाइन माध्यम से देखने की प्रक्रिया

  • यदि आप अपने भूमि का बिहार खतियान का विवरण ऑनलाइन माध्यम से देखना चाहते हैं तो उसके लिए आपको बिहार राज्य के राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
Bihar Khatiyan
Bihar Khatiyan
  • इसके बाद आपके सामने Website का Homepage खोलकर आ जाएगा
  • जहां पर आप को खाता देखे के Option पर Click कर देना होगा
Bihar Khatiyan Online
Khata Online Check
  • अब आपके सामने बिहार राज्य के सभी जिलों की सूची आ जाएगी आपको जिस जिले की सूची को देखना है उस जिले के नाम के आगे देखें के विकल्प कर Click देना होगा।
  • उसके बाद आपको अपने तहसील के नाम पर Click कर देना होगा
  • अब आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे जिसमें आपको कुल अंचल के विकल्प पर Click कर देना होगा.
  • उसके बाद आपको मौजा के विकल्प पर Click करना होगा और जिस भी मौजा को आप ढूंढना चाहते हैं उसके पहले अक्षर पर Type करके खोजें के विकल्प पर Click कर देना होगा
  • इसके बाद आपके सामने एक List Open होगा जहां पर उस मोजे के सभी लोगों के जमीन का विवरण दर्शाया जाएगा जहां पर आप खातेदार के नाम से जमीन की पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं
  • इस प्रकार आप आसानी से ऑनलाइन माध्यम से बिहार खतियान अपने Mobile Phone में देख सकेंगे।
Bihar Khatiyan PDF Format में Download करने की प्रक्रिया
  • यदि आप बिहार खतियान को Download करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको राज्य सरकार की भूमि एवं राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • जिसके बाद आपके सामने Website का Homepage खुल कर आ जाएगा
  • जहां पर आप के सामने मौजा की सूची ओपन होकर आएगी जिसमें आपको अपना नाम उस सूची में ढूंढना होगा
  • उसके बाद नाम के आगे देखें के विकल्प पर Click कर देना होगा
  • क्लिक करने के बाद ही आपके सामने Bihar Khatiyan रिपोर्ट ओपन होकर आ जाएगी जहां पर आपको Download के Option पर Click कर देना होगा
  • इसके बाद आपके मोबाइल फोन में बिहार खतियान Pdf Download हो जाएगा।

Leave a Comment