e-Shram Portal: ई-श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन, eshram.gov.in Card Registration

ई श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन | e-Shram Portal Online Apply | ई श्रम पोर्टल एप्लीकेशन फॉर्म | e-Shram Portal Login | ई-श्रम कार्ड डाउनलोड

केंद्र सरकार द्वारा देश के असंगठित क्षेत्रों को विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करने के लिए ई श्रम पोर्टल का शुभारंभ किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से देश के असंगठित क्षेत्र के कामगार पोर्टल पर पंजीकरण कराने के बाद अपना श्रमिक कार्ड बनवा सकते हैं। ई-श्रम कार्ड के माध्यम से उन्हें विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा और मजदूरों के डेटा को एकीकृत करने की सुविधा प्राप्त होगी। यह पोर्टल देश के सभी श्रमिकों के लिए एक वरदान साबित हुआ है जिससे उन्हें रोजगार प्राप्त करने में मदद प्राप्त होगी। यदि आप भी e-Shram Portal से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस लेख को अंत तक विस्तार पूर्वक पढ़ना होगा।

Table of Contents

e-Shram Portal

इस पोर्टल की शुरूआत केंद्र सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के करीब 38 करोड़ मजदूरों को एक यूनिवर्सल अकाउंट नंबर और ई-श्रम कार्ड प्रदान करने के लिए की गई है। इस कार्ड का उपयोग यह श्रमिक मजदूर देश के प्रत्येक कोने में कर सकते हैं। e-Shram Portal के तहत प्राप्त होने वाले कार्ड के माध्यम से श्रमिकों की सभी जानकारी एकीकृत कराई जाएगी। साथ ही साथ इन प्रवासी मजदूरों को ट्रैक करने के लिए इस कार्ड का उपयोग किया जाएगा। देश में श्रमिकों को पहचान दिलाने के लिए इस कार्ड को आरंभ करने का निर्णय लिया गया है। जिन श्रमिकों के पास यह कार्ड उपलब्ध होगा उन्हें विभिन्न सरकारी योजनाओं एवं सरकारी सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। 

e-Shram Portal

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के बीच जागरूकता फैलाई जाएगी

श्रम और रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली द्वारा देश के विभिन्न संगठित क्षेत्र के मजदूरों से ही श्रम पोर्टल पर आवेदन करने की अपील की गई। केंद्रीय मंत्री द्वारा कहा गया कि श्रमिकों के बीच जागरूकता फैलाई जाए ताकि ज्यादा से ज्यादा असंगठित क्षेत्र के कर्मचारी इस पोर्टल पर आवेदन करें। साथ ही साथ केंद्रीय मंत्री द्वारा बताया गया कि जो व्यक्ति e Shram Portal के तहत आवेदन करता है उन्हें कोविड-19 राहत योजना, अटल बीमित कल्याण व्यक्ति योजना एवं बीड़ी श्रमिक कार्ड का वितरण किया जाएगा। इन सभी कर्मचारियों को 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर जारी किया जाएगा जो पूरे देश में मान्य होगा। इस कार्ड के माध्यम से श्रमिकों को एक पहचान मिलेगी जिससे उनके भविष्य में सुधार आएगा।

रजिस्ट्रेशन के समय दिक्कत आने पर करें टोल फ्री नंबर पर कॉल

देश के असंगठित क्षेत्र के कर्मचारी अपना रजिस्ट्रेशन ई श्रम पोर्टल पर आसानी से करा सकते हैं। और विभिन्न सरकारी योजनाओं एवं सुविधाओं का लाभ आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।‌ परंतु आपको ई श्रम पोर्टल के तहत रजिस्ट्रेशन कराने में कोई समस्या आ रही है तो उसके लिए सरकार द्वारा टोल फ्री नंबर जारी किया गया है। इस बात की जानकारी श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा अपने ट्विटर के माध्यम से प्रदान की गई। सरकार द्वारा जारी किया गया है हेल्पडेस्क नंबर कुछ इस प्रकार है:-

  • हेल्पडेस्क नंबर- 14434 

ई श्रम पोर्टल में 27 लाख से अधिक असंगठित श्रमिकों ने किया पंजीकरण 


श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा 9 सितंबर 2021 यानी गुरुवार के दिन घोषणा करते समय बताया गया कि ई श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर पिछले माह से अब तक 27 लाख से अधिक असंगठित कामगारों ने रजिस्ट्रेशन किया है। ‌ इसी प्रकार नई दिल्ली के श्रम शक्ति भवन में 9 सितंबर को विभिन्न मंत्रालय द्वारा असंगठित कर्मियों के रजिस्ट्रेशन के लिए शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर के माध्यम से उम्मीद है कि 80 से ज्यादा श्रमिकों द्वारा रजिस्ट्रेशन किया जाएगा। इस शुभ अवसर पर श्रम एवं रोजगार मंत्री और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री रामेश्वर तेली द्वारा रजिस्ट्रेशन के बाद श्रमिकों को मिलने वाले लाभों के बारे में विस्तार से बताया।

ई श्रम पोर्टल का उद्देश्य

इस पोर्टल को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश के सभी असंगठित क्षेत्र के कामगारों जैसे हेयर केयर ड्रेसर प्लंबर इलेक्ट्रिशियन मोटर मैकेनिक या फिर रिक्शा ठेला चालकों जैसे मजदूरों को एक यूनिवर्सल अकाउंट नंबर प्रदान किया जाए। और साथ ही साथ ई श्रम पोर्टल के माध्यम से उन्हें एक ई-श्रम कार्ड उपलब्ध कराया जाए। इस कार्ड का उपयोग करके देश के असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभ प्रदान किए जाएंगे। इस पोर्टल को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश के वह सभी मजदूर जो इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर आते हैं तो उन्हें ₹200000 का एक्सीडेंटल इंश्योरेंस का लाभ प्रदान किया जाए।

ई श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन के मुख्य तथ्य

पोर्टल का नामई श्रम पोर्टल (e-Shram Portal)
किसके द्वारा आरंभ किया गयाकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के असंगठित क्षेत्र के मजदूर
उद्देश्यअसंगठित क्षेत्र के मजदूरों को सरकारी सुविधाएं प्रदान करना
ई श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://eshram.gov.in/ 

मजदूरों को मिलेगा 2 लाख रुपये का फ्री एक्सीडेंटल बीमा

देश के असंगठित क्षेत्रों के मजदूरों को सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करने हेतु केंद्र सरकार द्वारा ई श्रम पोर्टल की शुरूआत की गई है। इस पोर्टल के माध्यम से श्रमिक मजदूरों को एक कार्ड जारी किया जाएगा। इस कार्ड का उपयोग करके देश के संगठित क्षेत्र के मजदूर विभिन्न सरकारी योजनाओं एवं सुविधाओं का लाभ प्रदान कर सकेंगे। साथ ही साथ देश के व सभी श्रमिक मजदूर जो e-Shram Portal के तहत रजिस्ट्रेशन करवाते हैं तो उन्हें ₹200000 के एक्सीडेंटल इंश्योरेंस का लाभ प्रदान किया जाएगा। देश के व सभी मजदूर जो किसी दुर्घटना या मृत्यु का शिकार होते हैं तो ऐसी स्थिति में उन्हें ₹200000 का हेल्थ इंश्योरेंस मुहैया कराया जाएगा।

ई श्रम पोर्टल के तहत शामिल योजनाएं

सामाजिक सुरक्षा कल्याण योजना

  • प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना- केंद्र सरकार द्वारा देश के 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के बाद लाभार्थियों को ₹3000 की पेंशन उपलब्ध कराने हेतु प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से यदि किसी ने भारतीय की मृत्यु हो जाती है तो उसके पति या पत्नी को 50% आरक्षण मुहैया कराई जाएगी। इस योजना के तहत प्रीमियम राशि का 50% भुगतान लाभार्थी द्वारा किया जाएगा और 50% केंद्र सरकार द्वारा।
  • नेशनल पेंशन स्कीम- इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के बाद लाभार्थियों को ₹3000 की पेंशन प्रदान की जाए। नेशनल पेंशन स्कीम का लाभ उठाने के लिए लाभार्थियों को 50% प्रीमियम का भुगतान खुद करना होगा और 50% का भुगतान केंद्र सरकार द्वारा किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना- इस योजना की शुरूआत देश के वित्तीय सेवा विभाग द्वारा की गई है। सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उसके परिवार वालों को ₹200000 की राशि प्रदान की जाती है।
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना- सरकार द्वारा इस योजना के तहत यदि किसी न भारती की मृत्यु हो जाती है या फिर वह विकलांग हो जाता है तो मृत्यु की स्थिति में उसे ₹200000 की धनराशि प्रदान की जाती है। विकलांगता की स्थिति में उसे ₹100000 की मुआवजा राशि मुहैया कराई जाती है। योजना की शुरुआत देश के वित्तीय सेवा विभाग द्वारा की गई है।
  • अटल पेंशन योजना- अटल पेंशन योजना के तहत सरकार द्वारा लाभार्थियों को ₹1000 से लेकर ₹5000 तक की पेंशन प्रदान की जाती है। यदि किसी कारणवश योजना के तहत पंजीकृत न भारती की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उसके जीवन साथी को पेंशन की एकमुश्त धनराशि मुहैया कराई जाती है।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना- देश के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को घर के निर्माण के लिए प्लेन क्षेत्र में 1.2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है एवं पहाड़ी क्षेत्र में लाभार्थियों को लगभग 1.3 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाती है।
  • आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना- इस योजना के तहत देश के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को अपना इलाज कराने के लिए लगभग ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा। आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों को किसी भी प्रकार के प्रीमियम का भुगतान नहीं करना होगा।
  • स्वास्थ्य बीमा योजना विवर्स के लिए- योजना के तहत दिवस के परिवारों को ₹15000 का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश के विवर्स को आर्थिक संकट के दौरान किसी भी प्रकार की बीमारी का सामना ना करना पड़े।
  • राष्ट्रीय सफाई करमचारी- इस योजना के माध्यम से देश के सफाई कर्मचारियों को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना ना करना पड़े।
  • सेल्फ एंप्लॉयमेंट स्कीम फॉर रिहैबिलिटेशन ऑफ मैन्युअल स्कैवेंजर्स-इस योजना के माध्यम से देश के मैन्युअल स्कैवेंजर्स एवं उनके आश्रित लोगों को कौशल प्रशिक्षण भी मुहैया कराया जाएगा और साथ ही साथ इस प्रशिक्षण में ₹3000 का स्टाइपेंड मुहैया कराया जाएगा।

रोजगार योजनाएं

  • मनरेगा- देश के श्रमिकों को 100 दिन का रोजगार गारंटी के साथ मुहैया कराने हेतु मनरेगा योजना की शुरुआत की गई। इस योजना के माध्यम से देश से बेरोजगारी दर को कम किया जाएगा और रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिलेगा।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना- देश के ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं कॉल कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु इस योजना की शुरूआत की गई है। इन युवाओं को यह प्रशिक्षण प्रदान करने का मुख्य उद्देश्य है कि उन्हें बेहतर रोजगार के अवसर प्राप्त हो ताकि वह अपने परिवार का भरण पोषण आसानी से कर सकें।
  • सवनिधि योजना- देश के रहरी पटरी वाले लोगों को अपना रोजगार फिर से शुरू करने हेतु सरकार द्वारा इस योजना की शुरूआत की गई है। इस योजना के माध्यम से इन सभी छोटे व्यापारियों को ₹10000 का लोन मुहैया कराया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना- देश के युवाओं को कौशल विकास एवं प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु इस योजना की शुरूआत की गई है। इस योजना के माध्यम से देश के युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा ताकि उन्हें रोजगार प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।
  • प्रधानमंत्री एंप्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम- नए एंटरप्राइज स्थापित करने वाले लोगों को आर्थिक सहायता मुहैया कराने हेतु सरकार द्वारा प्रधानमंत्री एंप्लॉयमेंट जेनरेशन प्रोग्राम की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से देश में व्यवसाय को बढ़ावा प्रदान किया जाएगा।

श्रम पोर्टल के तहत स्टेकहोल्डर की सूची

  • श्रम और रोजगार मंत्रालय
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय
  • राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र
  • राज्य और केंद्र सरकार
  • लाइन मंत्रालय केंद्र सरकार के विभाग
  • समीक्षा विद्या केंद्र और फील्ड संचालक
  • असंगठित श्रमिक और उनके परिवार
  • यूआईडीएआई
  • एनपीसीआई
  • ईएसआईसी और ईपीएफओ
  • सीएससी
  • डाक विभाग
  • निजी क्षेत्र के भागीदार

ई श्रम पोर्टल के तहत एक्ट्स और रूल्स

इंडस्ट्रियल रिलेशन कोड 2020

इस कोड के माध्यम से रोजगार की शर्तें उद्योग विभाग और निपटान से संबंधित संशोधन किए जाते हैं। ‌ इंडस्ट्रियल रिलेशन कोर्ट को दूसरे राष्ट्रीय श्रम आयोग की रिपोर्ट और सिफारिशों के अनुसार बनाया जाता है।

ऑक्यूपेशनल सेफ्टी हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशन कोड 2020

इस कोड के माध्यम से श्रमिकों को व्यवसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य और काम करने की स्थिति में विनियमित किया जाता है। यह तेरा पुराने केंद्रीय श्रम कानूनों की जगह आरंभ किया जाता है।

कोड ऑन वेजेस 2019

यह कोर्ट सभी कर्मचारियों पर लागू किया जाता है। ‌ और सभी रोजगार में मजदूरी और बोनस भुगतान की विनियमित करने का प्रयास करता है। इस कोर्ट के माध्यम से ही श्रमिकों के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा निर्धारित मजदूरी प्रदान की जाती है।

कोड ऑन सोशल सिक्योरिटी 2020

इस कोड का उद्देश्य है कि असंगठित और संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जा सके। यह सामाजिक सुरक्षा से संबंधित कानूनों को संशोधित और समेकित करता है।

बौंडेड लेबर सिस्टम एक्ट 1976

इस एक्ट के माध्यम से बंधुआ मजदूरी को अपराध माना गया है और उसको समाप्त करने के लिए प्रणाली बनाई गई है। जिसके तहत राष्ट्रपति द्वारा अध्यादेश भी जारी किए गए हैं।

मिनिमम वेजेस एक्ट 1948

इस एक्ट को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि मजदूरी मानकों में सुधार लाया जा सके। इस एक्ट के माध्यम से देश के श्रमिकों को कम वेतन से बचाया जा सकेगा।

कांटेक्ट लेबर एक्ट 1970

इस एक्ट के माध्यम से विशिष्ट कार्य और अवधि के लिए कॉन्ट्रैक्ट के माध्यम से कंपनी में काम करने के लिए रखा जाता है और कांट्रेक्टर को नियुक्त किया जाता है। श्रमिकों के साथ दुर्व्यवहार को रोकने के लिए और उनके लिए एक स्वस्थ कार्य वातावरण सुनिश्चित करने के लिए इस एक्ट को शुरू किया गया है।

ऑर्गेनाइज वर्कर्स सोशल सिक्योरिटी एक्ट 2008

इस एक्ट को उन सभी श्रमिकों के लिए लागू किया गया है जो सामाजिक सुरक्षा प्राप्त करने के लिए विभिन्न योजनाओं में आवेदन करते हैं। इस एक्ट को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि इन सभी श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जा सके।

ई श्रम कार्ड की मुख्य बातें

  • ई कार्ड को बनवाने का कार्य सरकार द्वारा 26 अगस्त 2021 से जारी कर दिया गया है।
  • देश के विभिन्न राज्यों के नागरिक यह कार्ड बनवा सकते हैं।
  • इस कार्ड का उपयोग करके देश के लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त होगा।
  • असंगठित क्षेत्र के कर्मचारी अपना ई श्रम कार्ड बनवाने में सक्षम रहेंगे।
  • इस कार्ड में श्रमिकों का डेटाबेस सरकार के पास उपलब्ध होगा।
  • यह डाटाबेस श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा बनाया जाएगा।
  • देश के सभी असंगठित क्षेत्र के कामगार आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करवाकर अपना कार्ड बनवा सकते हैं
  • इन श्रमिकों को एक आईडेंटिटी कार्ड प्रदान किया जाएगा जिसमें यूनीक आईडेंटिफिकेशन नंबर उपलब्ध होगा।
  • सरकार के पास उपलब्ध श्रमिकों का डाटा रोजगार प्रदान करने में कारगर साबित होगा।

आवेदन के लिए पात्रता

  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होने चाहिए
  • उम्मीदवार एक असंगठित क्षेत्र का कर्मचारी होने चाहिए।
  • आवेदक की आयु 16 से 59 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होने चाहिए।
  • उम्मीदवार ईपीएफओ या एनपीएस का सदस्य नहीं होना चाहिए।

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

e-Shram Portal के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस पोर्टल के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

  • सर्वप्रथम आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Register On e- Shram के विकल्प पर क्लिक करना है।
e-Shram Portal के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • Aadhar Number
    • Captcha Code
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको Send OTP के बटन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • इस ओटीपी को आपको खाली बॉक्स में दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको Register के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप इस पोर्टल के तहत रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे।

ई श्रम कार्ड ऑनलाइन बनवाने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रजिस्टर ऑन ई श्रम के विकल्प पर क्लिक करना है।
ई श्रम कार्ड ऑनलाइन बनवाने की प्रक्रिया
  • कितने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना आधार लिंक मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको Send OTP के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • इस ओटीपी को आपको खाली बॉक्स में दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • नंबर दर्ज करने के बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • आपको यह ओटीपी खाली बॉक्स में दर्ज करना है और वैलिडेट के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने आधार कार्ड की जानकारी खुलकर आ जाएगी।
  • आपको कंफर्म टू एंटर द डिटेल्स के विकल्प पर क्लिक करना है
  • इसके पश्चात आपको पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी है जैसे
    • पर्सनल इंफॉर्मेशन
    • एजुकेशन क्वालीफिकेशन
    • ऑक्यूपेशन एंड स्किन
    • बैंक डीटेल्स
  • सभी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करने के बाद आपको अपने महत्वपूर्ण दस्तावेज अटैच करने हैं।
  • इसके पश्चात आपको सेल्फ डिक्लेरेशन के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके द्वारा दर्ज की गई सभी जानकारी आपको एक बार वेरीफाई करनी है।
  • सारी डिटेल्स वेरीफाई करने के बाद आपको सब मिल के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपके मोबाइल पर एक ओटीपी फिर से प्राप्त होगा।
  • इस ओटीपी को आपको खाली बॉक्स में दर्ज करना है।
  • ओटीपी दर्ज करने के बाद आपको कंफर्म के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपके सामने ई श्रम कार्ड खुलकर आ जाएगा।
  • इसके पश्चात आप इस कार्ड को डाउनलोड कर सकते हैं।

ई श्रम पोर्टल के तहत शामिल योजनाओं की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Schemes के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको दो विकल्प दिखाई देंगे जैसे
  • Social Welfare Scheme
ई श्रम पोर्टल के तहत शामिल योजनाओं की सूची देखने की प्रक्रिया
ई श्रम पोर्टल के तहत शामिल योजनाओं की सूची देखने की प्रक्रिया
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार इच्छुक विकल्प का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद आपके सामने योजनाओं की सूची खुलकर आ जाएगी।

सीएससी केंद्र लोकेट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको CSC Locator के विकल्प पर क्लिक करना है।
सीएससी केंद्र लोकेट करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • State
    • District
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप सीएससी केंद्र लोकेट कर पाएंगे।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Contact Us के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Grievance के विकल्प पर क्लिक करना है।
ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको एक ग्रीवेंस फॉर्म प्राप्त होगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर पाएंगे।

स्टेकहोल्डर्स की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Stakeholders के विकल्प पर क्लिक करना है।
स्टेकहोल्डर्स की सूची देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया फिर खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको स्टेक होल्डर की सूची प्राप्त हो जाएगी।

एडमिन लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Admin Login के विकल्प पर क्लिक करना है।
एडमिन लोगिन करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने लॉगइन पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप से पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी है जैसे
    • Email ID
    • Password
    • Captcha code
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Sign in के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे

Contact Us

  • सर्वप्रथम आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Contact Us के विकल्प पर क्लिक करना है।
Contact Us
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको कांटेक्ट से संबंधित डिटेल्स प्राप्त हो जाएंगी।
Helpdesk Support
  • Helpdesk Number- 14434

Leave a Comment