हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना 2021- ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना ऑनलाइन आवेदन | HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana Online Form | स्वर्ण जयंती आश्रय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

हिमाचल प्रदेश के अनुसूचित जाति लाभार्थियों को सभी सुविधाओं के साथ आवास प्रदान करने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती आश्रय योजना को 2020 में आरंभ किया गया है। अन्य आवास योजना के साथ हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना का उद्देश्य है कि 2022 तक राज्य के अनुसूचित जाति लाभार्थियों को रहने के लिए आवास प्रदान किया जाए। तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रही हैं जैसे इस योजना का उद्देश्य क्या है इसके लाभ क्या है आवेदन के लिए पात्रता क्या है तथा आवेदन की प्रक्रिया क्या है। आपसे निवेदन है कि Himachal Pradesh Swaran Jayanti Ashraya Yojana से जुड़ी पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को विस्तार से पढ़ें।

HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana

समय-समय पर हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति लोगों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के अलावा जीवन स्तर में सुधार के लिए कई कदम उठाए जाते हैं इसी प्रकार पिछले वर्ष के बजट भाषण में सीएम जय ठाकुर ने स्वर्ण जयंती आश्चर्य योजना की घोषणा की थी परंतु कोविड-19 महामारी के कारण योजना के कार्यान्वयन में देरी हुई। लेकिन 2021 में इस योजना को मुख्य लक्ष्य के साथ आरंभ किया गया है कि 2022 तक सभी अनुसूचित जाति के लोगों को आवास प्रदान किया जाए और साथ-साथ उसमें बुनियादी सुविधाएं भी उनको उपलब्ध कराई जाए। सीएम जयराम ठाकुर ने 2021 और 2022 के दौरान बुनियादी सुविधाओं के साथ 12000 घरों को मंजूरी देने का प्रस्ताव दिया है जबकि पिछले वर्ष यह संख्या 10000 थी।

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना

स्वर्ण जयंती आश्रय योजना का उद्देश्य

जैसे के हम सब जानते हैं प्रदेश के अनुसूचित जाति लोगों की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वह स्वयं के लिए घर नहीं खरीद पाते हैं और ऐसे में उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है इसी बात को ध्यान में रखते हुए हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना को आरंभ किया गया। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि राज्य के अनुसूचित जाति लोगों को बुनियादी सुविधाओं के साथ आवास उपलब्ध कराया जाए। यह सरकार द्वारा अनुसूचित जाति लोगों के जीवन स्तर में सुधार के लिए सकारात्मक कदम उठाया गया है जिसका उपयोग करके अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकेंगे तथा उन्हें ठहरने के लिए विभिन्न जगहों पर भटकना नहीं पड़ेगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि अन्य आवास योजना के साथ 2022 तक इस योजना के अंतर्गत लोगों को घर उपलब्ध कराया जाए।

HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana In Highlights

योजना का नामहिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना 2021
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी के द्वारा
आरंभ वर्ष2020
योजना का उद्देश्य2022 तक अनुसूचित जाति के लोगों को आवास उपलब्ध कराना
योजना का लाभघरों के साथ-साथ बुनियादी सुविधाएं भी प्रदान करना
घरों की संख्या12000
आवेदन का प्रकारअभी घोषित नहीं किया गया
आधिकारिक वेबसाइटअभी आरंभ नहीं की गई

HP Govt Scheme 2021

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना रजिस्ट्रेशन

पीएम आवास योजना जैसी अन्य आवासीय योजनाओं की तरह राज्य सरकार द्वारा HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana के माध्यम से राज्य के अनुसूचित जाति लोगों को घर उपलब्ध के साथ-साथ बुनियादी सुविधाएं भी उपलब्ध कराने के लिए आरंभ किया गया है। यह योजना भी अन्य योजनाओं के तरह आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए एक वरदान साबित हुई है। तथा 2022 तक लगभग 12000 घर लोगों को उपलब्ध कराए जाएंगे। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा तभी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana

स्वर्ण जयंती आश्रय योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के द्वारा 2020 में आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के 12000 अनुसूचित जाति लोगों को घर प्रदान किए जाएंगे।
  • इन घरों के साथ-साथ लोगों को बुनियादी सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई जाएंगी जिनका उपयोग करके अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकते हैं।
  • HP Swaran Jayanti Ashraya Yojana का मुख्य लाभ है कि लोगों को अपने रहने के लिए दरबदर भटकना नहीं पड़ेगा।
  • 2022 तक सरकार द्वारा लगभग 12000 घर उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • इस योजना का मुख्य लाभ है कि इससे लोग आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगे।
  • अनुसूचित जाति लोगों को घरों के साथ अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी जिससे उन्हें किसी कठिनाई का सामना ना करना पड़े।
  • हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना का मुख्य लक्ष्य है कि राज्य के गरीब वर्ग के लोगों का जीवन स्तर उपर उठाया जा सके।
  • यदि आप भी हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इसके अंतर्गत आवेदन करवाना होगा।
  • आवेदन करवाने के बाद लोगों को घर उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • जिनका उपयोग करके वह अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकेंगे तथा आत्म निर्भर रह सकेंगे।
  • केवल राज्य के अनुसूचित जाति ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं

Central Government Scheme 2021

आवेदन के लिए पात्रता

  • आवेदक हिमाचल प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है
  • उम्मीदवार अनुसूचित जाति श्रेणी से संबंधित होना चाहिए
  • आवेदक किसी भी बैंक के ऋण देने वाली संस्था से ऋण डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए
  • हिमाचल प्रदेश या देश के अन्य हिस्सों में उसके नाम पर घर नहीं होना चाहिए

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती आश्रय योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि सरकार द्वारा अभी इस योजना को केवल आरंभ किया गया है अभी इसके अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है। जैसे ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को आरंभ किया जाएगा वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आपको तब तक इस योजना से जुड़ी कोई भी कठिनाई आती है या मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

National Portal Of India- india.gov.in

Leave a Comment