मेरी फसल मेरा ब्यौरा 2023- Meri Fasal Mera Byora Registration

Meri Fasal Mera Byora Online Registration और हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा आवेदन फॉर्म प्रिंट , उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं एवं पात्रता जाने

हरियाणा राज्य के किसानों को फसलों से जुड़ी सुविधाएं उपलब्ध कराने हेतु मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा का शुभारंभ किया गया। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के किसान फसलों की जानकारी के साथ-साथ अपनी सारी समस्याओं का हल भी एक ही प्लेटफार्म पर प्राप्त कर सकते हैं। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा से जुड़ी सभी जानकारी अवगत कराएंगे। यदि आप भी Meri Fasal Mera Byora से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढें।

Table of Contents

Haryana Meri Fasal Mera Byora

इस पोर्टल के अंतर्गत मुख्यमंत्री जी का कहना था कि किसानों को सारी सरकारी सुविधाएं और समस्याओं के हल एक ही जगह पर उपलब्ध करवाए जाएंगे। मुख्यमंत्री जी ने इस पोर्टल को संबोधित करते हुए बताया कि सरकार द्वारा मंडियों में खरीद के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं और Meri Fasal Mera Byora Portal पर प्रतिदिन 1.5 लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीद का प्रस्ताव किया गया है, सरसों एवं गेहूं की खरीद पर 140 मंडियां तथा गेहूं खरीद के लिए 2000 मंडियां निर्धारित कि गई हैं। इस पोर्टल पर अब तक 7 लाख 26 हजार से अधिक किसान अपना पंजीकरण करवा चुके हैं। इस पोर्टल पर हर किसान के बाजरे की कीमत  ₹1950 की होगी। तथा इस योजना में जो भी किसान पंजीकरण करवा चुके हैं उन्हें सरकार की ओर से ₹10 प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर खरीफ फसल का पंजीकरण

हरियाणा सरकार द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल की शुरूआत खरीफ फसलों के पंजीकरण के लिए कर दी गई है। अब खरीफ की लगभग 20 से अधिक फसलों का पंजीकरण इस पोर्टल पर किया जा सकता है। परंतु इन फसलों में बाजरा की फसल को शामिल नहीं किया गया है जिससे राज्य के किसान काफी असमंजस में है। केंद्र सरकार द्वारा बाजरा के समर्थन मूल्य में ₹100 की बढ़ोतरी की है एवं इस फसल पर बिजाई का कार्य तेजी से चल रहा था। परंतु पोर्टल पर इस का पंजीकरण ना होने पर काफी किसान अब बाजरे के जगह दलहनी व तिलहनी फसल लगाने का विचार कर रहे हैं।

  • बाजरे की फसल को ना लगाने की वजह है कि इस फसल में तकनीकी खामी आई है।
  • जिसमें जल्द से जल्द सुधार किया जाएगा ताकि इस फसल को भी पोर्टल पर जोड़ा सकें।

यह भी पढ़े: हरियाणा ई-खरीद पोर्टल

Meri Fasal Mera Byora In Highlights

योजना का नामहरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा 2023
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा
विभागकिसानों और कृषि किसान मंत्रालय
उद्देश्यकिसान और खेत का पंजीकरण
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटfasal.haryana.gov.in

मेरी फसल मेरा ब्यौरा न्यू अपडेट

आपको बता दें की मेरी फसल मेरा ब्यौरा के अंतर्गत राज्य सरकार ने आवेदन करने की अंतिम तिथि 7 सितंबर 2020 तय कर दी है राज्य के जिन किसानों ने अभी तक Meri Fasal Mera Byora में आवेदन नहीं करवाया है और इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें 7 सितंबर 2020 से पहले इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करवाना होगा।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का उद्देश्य

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का मुख्य उद्देश्य है कि किसानों को सारी सरकारी सुविधाएं और समस्या निवारण जैसी सारी सुविधाएं एक ही जगह पर उपलब्ध करवाना। और मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना पर खाद्य बीज और कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध करवाना। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि फसल की बुवाई कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाना।

यह भी पढ़े: हरियाणा अंत्‍योदय परिवार उत्‍थान योजना

मेरी फसल मेरा ब्यौरा

आपको बता दें कि 7 अप्रैल 2020 को Meri Fasal Mera Byora पोर्टल के पंजीकरण खोल दिए गए थे और सूत्रों के अनुसार इस पोर्टल पर अभी तक केवल 60% किसानों द्वारा पंजीकरण करवाया गया है जबकि 40% किसान ऐसे हैं जिनके द्वारा फसल खरीद के लिए पंजीकरण नहीं करवाया गया। मुख्यमंत्री जी द्वारा घोषणा की गई कि कोरोना वायरस की वजह से फसल खरीद की प्रक्रिया जून तक चलेगी। दोस्तों इस पोर्टल पर किसानों को बुवाई, कटाई के मौसम और मंडी से संबंधित जानकारी वास्तविक समय के आधार पर प्रदान की जाएगी।

Meri Fasal Mera Byora

Benefits Of Meri Fasal Mera Byora Yojana

  • इस योजना का मुख्य लाभ यह है कि सारी सरकारी सुविधाओं और समस्या निवारण को एक ही जगह पर उपलब्ध।
  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के तहत किसानों को विभिन्न योजना के तहत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • खाद्य वितरण एवं कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध करवाना।
  • योजना का मुख्य लाभ है कि कृषि संबंधित जानकारियां समय पर उपलब्ध करवाना।
  • इस योजना के तहत सभी किसानों की फसलों के ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवाए जाएंगे।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के दिशा निर्देश

  • इस योजना के तहत फसल के संबंधित जानकारी किसान के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस द्वारा भेजी जाएगी।
  • पंजीकरण के समय किसानों के दस्तावेज अपने पास रखने होंगे।
  • इस योजना के तहत जमीन की जानकारी के लिए नकल की कॉपी फरीद की कॉपी और खसरा संख्या देखकर भरें
  • बैंक के पासबुक की कॉपी
  • फसल के नाम किस में बुवाई का समय

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजन में आवेदन के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जमीन के कागजात
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

  • राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना 2023 में आवेदन करवाना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों को फॉलो करना है
  • सबसे पहले आपको इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है
मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना
Meri Fasal Mera Byora
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पंजीकरण क्लिक करें का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है।
Meri Fasal Mera Byora
Registration Form
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खूलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना है। दर्ज करने के बाद जारी रखें के बटन पर क्लिक करना है।
Meri Fasal Mera Byora
Enter Mobile Number
  • यहां पर आपसे कुछ जानकारियां पूछी जाएंगी आपको अपनी सारी जानकारी दर्ज करनी है जैसे कि अपना मोबाइल नंबर आधार नंबर परिवार की आईडी आदि।
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा। सर्च के बटन पर क्लिक करने के बाद आपके मोबाइल पर ओटीपी आएगा।
  • इस ओटीपी को आपको अगले पेज पर भरना है।
  • आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुलकर आएगा। इस फॉर्म में आपको चार चरण भरने होंगे
  • पहले चरण में किसान का पंजीकरण होगा।
  • दूसरे चरण में फसल का विवरण आएगा जिसमें आपको फसल से रिलेटेड जानकारी भरनी है।
  • तीसरे चरण में बैंक का विवरण आएगा जिसमें आप को बैंक से रिलेटेड जानकारी भरनी है।
  • आखिरी चरण में मंडी आढ़ती का विवरण भरना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह फिर आपका पंजीकरण हो जाएगा।

आवेदन फॉर्म प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको पंजीकरण करें का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खूलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको प्रिंट फॉर्म का ऑप्शन दिखाई देगा।
आवेदन फॉर्म प्रिंट करने की प्रक्रिया
Print Meri Fasal Mera Byora Form
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। क्लिक करने के बाद आपको यहां पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी है जैसे कि मोबाइल नंबर बैंक खाता संख्या।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको प्रिंट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा इस तरह से आप अपना फॉर्म प्रिंट कर सकते हैं

मंडी में फसल लाने की अनुमानित सप्ताह कैसे चुने

मंडी में फसल लाने की अनुमानित सप्ताह कैसे चुने
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना है। मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद आपको कैप्चा कोड डालकर जारी रखें के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से फसल लाने का अनुमानित सप्ताह चून सकते हैं।

मंडीवार गेट सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा
  • होम पेज पर आपको मंडीवार गेट पास सूची का विकल्प दिखाई देगा।
मंडीवार गेट सूची देखने की प्रक्रिया
मंडीवार गेट सूची
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है, क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी जैसे के District, Crop, Mandi, MM/PC/SY तथा Gate दर्ज करनी है।
  • दर्ज करने के बाद आपको View List के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से आपके सामने मंडी वार गेट पास सूची खुलकर आ जाएगी।

सीमांत किसान पंजीकरण की प्रक्रिया (केवल धान के लिए)

  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए) का विकल्प दिखाई देगा।
सीमांत किसान पंजीकरण की प्रक्रिया
सीमांत किसान पंजीकरण
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है,‌ क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको किसान पंजीकरण करने के लिए अपनी मोबाइल संख्या सर्च बॉक्स में दर्ज करनी होगी।
  • संख्या दर्ज करने के बाद आपको चित्र में दिए गए शब्द को दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको जारी रखें के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से आपसे सिमांत किसानों का पंजीकरण  पाएंगे।
गेट पास तिथि बदलने की प्रक्रिया 
गेट पास तिथि बदलने की प्रक्रिया
गेट पास तिथि बदलने की प्रक्रिया
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है, क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा 
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर तथा चित्र में दिए गए नंबर को दर्ज करना है 
  • दर्ज करने के बाद आपको जारी रखें के बटन पर क्लिक करना है 
  • क्लिक करने के बाद आप गेट पास की तिथि बदल सकते हैं 
बैंक का विवरण देखने की प्रक्रिया 
  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है 
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा। 
  • इस होम पेज पर आपको बैंक का विवरण बदले का विकल्प दिखाई देगा |
बैंक का विवरण देखने की प्रक्रिया
बैंक का विवरण देखने
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है, क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा 
  • इस पेज पर आपको कुछ जानकारी जैसे मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है 
  • जानकारी दर्ज करने के बाद आपको जारी रखें के बटन पर क्लिक करना है 
  • इस तरह से आप बैंक का विवरण बदल सकते हैं
Contact Information
  • Helpline number- 18001802060
  • Toll-free number- 18001802117
  • Email ID- hsamb.helpdesk@gmail.com 

Leave a Comment