प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) 2021- ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस

Pradhanmantri Fasal Bima Yojana Online | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन फॉर्म | Fasal Bima Yojana In Hindi

देश के किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान पर बीमा प्रदान करने हेतु हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा PM Fasal Bima Yojana का शुभारंभ किया गया। इस योजना के अंतर्गत किसानों को किसी भी प्राकृतिक आपदा के कारण फसल की बर्बादी होने पर बीमा मुहैया कराया जाएगा। तो दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी स्पष्ट करने जा रहे हैं। यदि आपको इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी है तो आप से निवेदन है कि हमारे इसलिए को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

Table of Contents

PM Fasal Bima Yojana

पीएम फसल बीमा योजना हमारे प्रधानमंत्री द्वारा हमारे किसान भाइयों के लिए बनाई गई है। इस योजना के तहत देश के किसानों के लिए भारतीय कृषि बीमा कंपनी में प्रत्येक आपदाओं के कारण बर्बाद हुई फसलों की बीमा किसानों को उनके सीधे बैंक अकाउंट में पहुंचा दी जाएगी। फसल बीमा योजना के अंतर्गत केंद्र  सरकार ने 8800 करोड़ रुपए खर्च करके यह योजना का पालन किया है। जिसमें अंतर्गत किसानों को खरीफ फसल 2% के लिए रबी की फसल 1.5% का भुगतान करते हैं और जिसके अनुसार जो भी नुकसान आते हैं जैसे कि सूखा पड़ना बढ़ाना ओले पड़ने  से जो फसल खराब होती है उन किसानों को सरकार द्वारा मदद प्रदान की जाएगी।

मध्य प्रदेश के 47 लाखों किसानों को मिला फसल बीमा योजना का लाभ

जैसे कि आप सभी जानते हैं कि देश के किसानों को उनकी फसलों मैं होने वाले नुकसान पर बीमा प्रदान करने हेतु केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत मध्य प्रदेश के लगभग 47 लाख किसानों को लाभ प्राप्त हो रहा है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मध्य प्रदेश के तकरीबन तीन लाख से अधिक किसान प्रतिवर्ष जुड़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में से उज्जैन जिले के 400000 किसानों ने इस योजना के तहत आवेदन कर आया है। और सबसे कम सिंगरौली जिले के किसानों ने आवेदन किया है। 31 अगस्त 2021 तक मध्य प्रदेश के 47 लाख से ज्यादा किसान इस योजना के तहत पंजीकृत करा चुके हैं।

उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभ में बदलाव

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान पर लाभ मुहैया कराया जाता है। हाल ही में ही सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभों में कुछ बदलाव किए गए हैं। पहले किसानों को गेहूं काटने के बाद मड़ाई के दौरान आग लगने या फिर बारिश होने पर जो नुकसान होता था उसके लाभ किसानों का ना मिलकर बल्कि सामूहिक लाभ मुहैया कराया जाता था। परंतु नए बदलावों के दौरान अब किसानों को पूरी फसल के नुकसान का लाभ अकेले ही मुहैया कराया जाएगा।

  • यह लाभ उठाने के लिए किसानों को अपने सभी दस्तावेजों के साथ बैंक में संपर्क करना होगा।
  • वह किसान धान व गेहूं का प्रति हेक्टेयर निर्धारित रकम का डेढ़ से 2 फीसद प्रीमियम जमा करके लाभ उठा सकते हैं।

यूपी के 35000 किसानों ने कराया बीमा

सूत्रों के अनुसार पता चला है कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ में लगभग 35259 किसानों ने इस योजना के अंतर्गत बीमा कराया है। और लगभग इसके एवज में 3.27 करोड़ रुपए के प्रीमियम का भुगतान हुआ है। इस योजना के अंतर्गत अब तक केवल 8411 किसानों ने क्लेम किया है और 5.78 करोड रुपए का भुगतान बीमा कंपनियों द्वारा किया गया है। अब तक लगभग इस योजना का लाभ उठाने के लिए लगभग 90 लाख पंजीयन हो चुके हैं। पहले किसानों की किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से बीमित राशि स्वयं ही कट जाती थी परंतु अब ऐसा नहीं होगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार ने तय की खरीफ व रबी फसलों की प्रीमियम राशि

हरियाणा सरकार ने खरीफ व रबी  फसलों की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 के तहत बीमा प्रीमियम राशि तय कर दी है। वर्ष 2021 में खरीफ की फसलों में जो अनाज उगाया जाता है जैसे धान मक्का बाजरा और कपास. इसी तरह रबी की फसलों में गेहूं जौ चना सरसों व सूरजमुखी की फसलों का बीमा किया जाएगा फसल का बीमा करवाने के लिए आखिरी तारीख 31 जुलाई 2021 रखी गई है। कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के द्वारा यह जानकारी दी गई।

खरीफ की फसलों में किसानों को प्रति एकड़ यह प्रीमियम राशि देनी पड़ेगी।

फसलप्रति एकड़ प्रीमियम राशि
धान713.99 रुपये
मक्का356.99 रुपये
बाजरा335.99 रुपये
कपास1732.50 रुपये

रबी की फसलों का बीमा प्रीमियम

फसलप्रति एकड़ प्रीमियम राशि
गेहूं409.50 रुपये
जौ267.75 रुपये
चना204.75 रुपये
सरसों275.63 रुपये 
सूरजमुखी267.75 रुपये

कौन सी फसल के लिए कितनी मिलेगी रकम

अगर किसी किसान की फसल बर्बाद होती है और उसने फसल का बीमा करा रखा है तो उसे सरकारी बीमा कंपनी मेरे पास में निम्नलिखित बीमा राशि देगी जो एक टेबल द्वारा हम आप को समझा रहे हैं।

फसल किसानों को मिलने वाली बीमा राशि प्रति एकड़
धान35699.78 रुपये
मक्का17849.89 रुपये
बाजरा16799.33 रुपये
कपास34650.02 रुपये
गेहूं27300.12 रुपये
जौ 17849.89 रुपये
चना13650.06 रुपये
सरसों18375.17 रुपये
सूरजमुखी17849.89 रुपये

PMFBY के लाभ का दावा

जैसे कि आप सभी जानते हैं हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किसानों को उनकी फसलों पर प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान पर लाभ प्रदान किया जाता है। यदि आप भी प्राकृतिक आपदाओं जैसे तूफान बेमौसम बारिश ओलावृष्टि भूस्खलन बादल फटने बिजली गिरने एवं जंगल की आग आदि प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित हैं तो आप इस नुकसान के 72 घंटे के भीतर ही अपनी समस्या को संबंधित अधिकारी जैसे कृषि अधिकारी और बीमा कंपनी या फसल बीमा ऐप के माध्यम से सूचित कर सकते हैं। नीचे दिए गए टोल फ्री नंबर पर आपको कॉल करके अपनी फसलों को हुए नुकसान की तारीख और समय की जानकारी देनी होगी। इसके साथ ही आपको नुकसान हुई फसलों का फोटो भी अधिकारियों को भेजना होगा। इस प्रकार आपकी समस्या का जल्द ही समाधान निकाला जाएगा एवं आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ उपलब्ध कराया जाएगा

  • कॉल सेंटर टोल फ्री नंबर- 1800-180-1551

केंद्र द्वारा फसल बीमा योजना के लिए 16000 करोड़ रुपये

सरकार द्वारा किसानों की फसलों की सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत 16000 करोड़ रुपए का बजट आवंटित कर दिया गया है। इससे किसानों की फ़सलों को अधिकतम लाभ प्रदान किया जाएगा मंत्रालय ने कहा कि यह पिछले वित्तीय वर्ष के मुकाबले लगभग 305 करोड़ रुपए का बजटीय वृद्धि है जो देश के कृषि क्षेत्र के विकास लाएगा। यह योजना पूर्व बुवाई चक्र से लेकर कटाई के बाद की फसलों का कवरेज प्रदान करेगी जिसमें रोकी गई बुवाई और मध्य मौसम से होने वाले नुकसान के लिए भी कवरेज शामिल है।

  • सरकार द्वारा 5 साल पहले 13 जनवरी 2016 को इस प्रमुख फसल बीमा योजना को मंजूरी दी थी
  • जिससे किसानों को काफी लाभ प्राप्त हुआ है।
  • मंत्रालय ने कहा आज प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना विश्व स्तर पर किसान भागीदारी के मामले में सबसे बड़ी फसल बीमा योजना है
  • और प्रीमियम के मामले में तीसरी सबसे बड़ी है।
  • इस योजना के अंतर्गत 5 करोड 50 लाख से अधिक किसान आवेदन प्राप्त कर चुके हैं।

पीएम फसल बीमा योजना में 90 हजार करोड रुपये के दावों का भुगतान

जैसे की हम सब जानते हैं सरकार द्वारा 13 जनवरी 2016 को आरंभ करने वाली प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़ आंIiधी तेज बारिश से होने वाले नुकसान के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह योजना भारतीय कृषि बीमा कंपनी द्वारा संचालित की गई है अब तक इस योजना के अंतर्गत लगभग 5.5 करोड़ किसानों का आवेदन हो चुका है तथा 90 हजार करोड़ रुपए के दावों का भुगतान किया जा चुका है। यह दावे आधार सीडिंग के माध्यम से निपटाए गए हैं तथा कोविड-19 के दौरान इस योजना के अंतर्गत 7000000 किसानों को लगभग 8741.30 करोड रुपये प्रदान किए जा चुके हैं।

  • प्रधानमंत्री फसल योजना के अंतर्गत अतिरिक्त प्रीमियम राशि का भुगतान भारत सरकार द्वारा किया जाता है।
  • तथा इस प्रीमियम में रोकी गई मोबाइल और फसल के बीच होने वाली प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान को भी शामिल किया गया है।

फसल बीमा योजना के अंतर्गत रबी फसल बीमा प्रक्रिया आरंभ

इस योजना के अंतर्गत रबी फसल बीमा की प्रक्रिया को आरंभ कर दिया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के बैंक खातों से प्रीमियम राशि का भुगतान किया जाएगा सरकार द्वारा इसके निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 31 दिसंबर 2020 से पहले ही प्रीमियम की राशि किसानों के अकाउंट से काट ली गई है तथा 15 जनवरी 2021 में इसकी जानकारी पोर्टल पर दर्ज कर दी गई थी। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रक्रिया के बारे में संपूर्ण जानकारी मध्यप्रदेश के बैंकों के नोडल कार्यालय को एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड द्वारा प्रदान की गई। सभी पात्र लाभार्थियों के हाथों से बैंक द्वारा प्रीमियम राशि काट ली गई है और इस योजना के अंतर्गत श्रेणी किसानों को सहमति पत्र देने की आवश्यकता नहीं है तथा जो इस योजना के अंतर्गत लाभ नहीं प्राप्त करना चाहते उन्हें बैंक में असहमति पत्र जमा करने की आवश्यकता पड़ेगी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना दिसंबर अपडेट

जैसे कि हम सब जानते हैं पहले प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदाओं के होने वाले नुकसान को इंश्योरेंस कवर प्रदान किया जाता था लेकिन अब सरकार द्वारा इसके अंतर्गत वाइल्ड लाइफ डैमेज को भी कवर करने का निर्णय लिया गया है। इसका मतलब है कि यदि फसल को जंगली जानवरों के कारण नुकसान पहुंचा है तो उस पर नुकसान कवर प्रदान किया जाएगा यह सुविधा ऐडऑन कवरेज के रूप में प्रदान की जाएगी तथा यह वैकल्पिक होगी। यदि किसान वाइल्ड लाइफ कवर लेना चाहते हैं तो उसके लिए किसानों को प्रीमियम का भुगतान करना होगा। वन अधिकारियों द्वारा बताया गया कि राज्य में पहले से ही क्रॉप डैमेज कॉरपोरेशन किसानों को प्रदान की जाती थी अब विभिन्न राज्यों द्वारा जंगली जानवरों से हुए नुकसान को भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के दिशा निर्देश में शामिल कर लिया गया है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि लिस्ट

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देश्य

  • भारत सरकार द्वारा फसल बीमा योजना का उद्देश्य है के
  • किसानों को प्राकृतिक खाने से होने वाले नुकसान से बचाना!
  • खेती-बाड़ी में हुए नुकसान की धनराशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में देना।
  • खेती-बाड़ी में आगे काम करने के लिए प्रोत्साहित करना।
  • किसानों को फसलों से होने वाले नुकसान और चिंताओं से मुक्त करना।
  • भारत को विकसित अथवा प्रगतिशील बनाना।

फसल बीमा योजना के अंतर्गत क्रॉप और प्रीमियम

क्र0स0फसलकिसान द्वारा देय बीमा राशि का प्रतिशत
1खरीफ2.0%
2रबी1.5%
3वार्षिक वाणिज्यिक एवं बागवानी फसले5%

 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्रीमियम राशि

  • खारिफ फसल- बीमित राशि 2%
  • रबी फसल- बीमित राशि 1.5%
  • सालाना वाणिज्यिक और बागवानी फसल के लिए- बीमित राशि 5%

फसल बीमा योजना गतिविधि कैलेंडर

गतिविधि कैलेंडरखरीफरबी
अनिवार्य आधार पर लोनी किसानों के लिए स्वीकृत ऋण।अप्रैल से जुलाई तकअक्टूबर से दिसम्बर तक
किसानों के प्रस्तावों की प्राप्ति के लिए कट ऑफ़ तारीख (ऋणदाता और गैर-ऋणदाता)।31 जुलाई31 दिसम्बर
उपज डेेटा प्राप्त करने के लिये कट आफ तारीखअतिंम फसल के एक महीने के भीतरअतिंम फसल के एक महीने के भीतर
 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना रिवाइज

प्रकारवर्ष 2016 के लियेवर्ष 2019 के लिये
किसान द्वारा देय प्रीमियम धनराशिरू 900रू 600
शतप्रतिशत नुकसान की दशा मे किसान को प्राप्त धन राशिरू 15000रू 30000

फसल बीमा योजना के अंतर्गत अब तक का प्रीमियम

योजना के अंतर्गत पिछले 3 सालों में 13000 करोड़ रुपए का प्रीमियम जमा हुआ है। लेकिन प्राकृतिक आपदा के कारण किसानों के प्रीमियम को 4.5 गुना राशि करीब 64000 करोड रुपए मुआवजा के रूप में प्राप्त हुआहरे फसल के लिए 2 फ़ीसदी रबी फसल के लिए 1.5 फ़ीसदी और बागवानी फसल के लिए 5 फ़ीसदी है। श्री तोमर जी के द्वारा बताया गया कि प्रीमियम राशि में कोई बदलाव नहीं किए गए हैं। कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान 8,090 करोड रुपए से अधिक का भुगतान किया गया।

फसल बीमा योजना के अंतर्गत महत्वपूर्ण तिथियां

यदि कोई भी किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन करवाना चाहता है उसकी कुछ महत्वपूर्ण तिथियां इस प्रकार है

  • खरीफ फसल के लिए अंतिम तिथि- 31 जुलाई
  • रबी फसल के लिए अंतिम तिथि- 31 दिसंबर

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत  यदि आप अंतिम तिथि के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप सीएससी केंद्र पीएमएफबीवाई पोर्टल इंश्योरेंस कंपनी या फिर कृषि अधिकारी से पूछ सकते हैं

Benefits Of PM Fasal Bima Yojana

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से देश के किसानों की फसलों से होने वाले नुकसान का बीमा सीधा किसानों के बैंक अकाउंट में जाएगा।
  • किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदा के कारण खराब हुई है तो  इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • किसी किसान की फसल अगर किसी मानव के कारण खराब हुई है तो उन्हें इस Pradhanmantri Fasal Bima Yojana 2021 का कोई लाभ प्राप्त नहीं होगा।
  • पॉलिसी के तहत अगर किसानों को  खरीफ फसल 2% के लिए रवि फसल के लिए 1.5%  का भुगतान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के कौन पात्र है?

  • इस योजना के तहत देश के सभी किसान पात्र हैं।
  • PM Fasal Bima Scheme के तहत आप अपनी जमीन पर बीमा करवा सकते हैं और साथ ही किसी से उधार ली हुई जमीन पर भी बीमा हो सकता है।
  • उन किसानों को इस योजना का पात्र माना जाएगा जो पहले से किसी बीमा योजना का
  •  लाभ नहीं ले रहे।

आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता
  • एड्रेस प्रूफ जैसे के ड्राइविंग लाइसेंस पासपोर्ट या वोटर आईडी कार्ड
  • अगर आपके पास किराए की जमीन है तो उसमें खेत के मालिक के साथ एक करार की फोटो कॉपी
  • खेत का खाता नंबर
  • किसान का फोटो
  • किसान द्वारा फसल शुरू किए हुए दिन की तारीख

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 में आवेदन करने के लिए नीचे दिए गए प्वाइंट्स को फॉलो करें।
  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • फसल बीमा योजना में पंजीकरण करने के लिए सबसे पहले आपको अपना एक अकाउंट बनाना होगा।
  • अकाउंट बनाने के लिए  रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करें और पूछी गई सभी जानकारी को सही सही से भरे।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें इससे आपका अकाउंट ऑफिशल वेबसाइट पर बन जाएगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • अब आपका अकाउंट बनकर तैयार है। आपको अब अपने अकाउंट में लॉगिन करना है। उसके बाद आपको फसल बीमा योजना का फॉर्म भरना है।
PM Fasal Bima Yojana Application Form
  • फसल बीमा योजना का फॉर्म भरने के बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना है। जैसी आप सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे। आपकी स्क्रीन पर एक सक्सेसफुल मैसेज आ जाएगा।
  • इस तरीके से आप का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

फसल बीमा योजना रजिस्ट्रेशन का स्टेटस कैसे चेक करें?

  • सबसे पहले आपको फसल बीमा योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है। ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने एक होम पेज खोलकर आएगा।
  • कुछ होम पेज पर आपको एप्लीकेशन स्टेटस का ऑप्शन दिखाई देगा उस ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • उस पर क्लिक करने के बाद आपको Receipt नंबर भरना होगा और इसी नंबर भरने के बाद कैप्चा कोड डालें और सर्च स्टेटस के बटन पर क्लिक करें।
  • इस पर क्लिक करने के बाद आपको आपके आवेदन की स्थिति थी दिखने लगेगी।

पीएम फसल बीमा योजना मोबाइल ऍप डाउनलोड की प्रक्रिया

देश के जो इच्छुक लाभार्थी पीएम फसल बीमा योजना का मोबाइल ऍप डाउनलोड करना  चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आप  अपने एनरोइड मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाये। गूगल प्ले स्टोर पर जाने के बाद आपको सर्च बार पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिखकर सर्च के बटन पर क्लिक पर क्लिक करे।
  • बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने फसल बीमा योजना मोबाइल ऍप खुलकर आ जायेगा। इस पेज पर आपको इस्टॉल के बटन पर क्लिक करना होगा इसके बाद आपका मोबाइल ऍप डाउनलोड हो जायेगा।
  • आप इस मोबाइल ऍप का इस्तेमाल योजना के अंतर्गत आवेदन करने ,आवेदन की स्थिति देखने और सूची देखने के लिए कर सकते है।

फसल बीमा योजना लाभार्थी सूची कैसे देखे ?

आधिकारिक वेबसाइट के ज़रिये

  • सर्वप्रथम लाभार्थी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाये। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगी।
  • इस होम पेज पर आप  लाभार्थी सूची के लिंक पर क्लिक करे। अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।  जिसमें आप अपने राज्य का चयन करे।
  • इसके बाद  आप अपने जिले का चयन करे फिर  ब्लॉक का चयन करे। जैसे ही आप ब्लॉक का चयन करेंगे आपके सामने लाभार्थी सूची खुलकर आ जाएगी। आप इस सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

बैंक के ज़रिये से

  • सबसे पहले  आपको अपने नजदीकी बैंक जाना होगा।इसके बाद आपको  संबंधित अधिकारी को अपना एप्लीकेशन नंबर देना होगा।
  • फिर आपको बैंक अधिकारी द्वारा मांगे गए दस्तावेजों को देना होगा। बैंक अधिकारी आपको लाभार्थी सूची से संबंधित जानकारी प्रदान कर देगा।
  • इस प्रकार आप लाभार्थी सूची में अपना नाम देख पाएंगे।

इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Insurance Premium Calculator के विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी जैसे Season, Year, Scheme, State, District तथा Crop दर्ज करनी है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Calculate के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेट कर पाएंगे

स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होमपेज खुलकर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको Report के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको State Wise Farmer Details के विकल्प पर क्लिक करना है
स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको स्टेट वाइज फार्मर डिटेल की सूची दिखाई देगी।
  • आप अपनी आवश्यकता अनुसार इच्छुक विकल्प का चयन कर सकते हैं

टेंडर्स डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Documents के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Tender के विकल्प पर क्लिक करना है।
टेंडर्स डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको विभिन्न प्रकार के विकल्प दिखाई देंगे जैसे
    • Bid Opening Meeting Notice
    • Response To Queries
    • Corrigendum 5
    • Corrigendum 4
    • Request To Proposal
    • Corrigendum 3
    • Corrigendum 2
    • Response To Pre Bid Queries
    • Corrigendum To RFP
  • यहां आपको अपने इच्छुक विकल्प का चयन करना है
  • चयन करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी
  • इसे आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक करने के बाद डाउनलोड भी कर सकते हैं

गाइडलाइंस जांचने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Documents के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको Guidelines के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको विभिन्न प्रकार की गाइडलाइंस दिखाई देंगी जैसे
    • Revamped Operational Guidelines
    • PMFBY Scheme
    • PMFBY Basic Features
    • Press Note
    • PMFBY Advertisement
    • Weather Based Crop Insurance Scheme
    • Unified Package Insurance Scheme
    • National Agricultural Insurance Scheme
    • National Crop Insurance Programme
  • आप अपनी आवश्यकता अनुसार इच्छुक विकल्प का चयन कर सकते हैं
  • चयन करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी
  • इस फाइल को आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते हैं।

किसान प्रीमियम पेमेंट मॉड्यूल देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको What’s New? के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Farmer Premium Payment Module के विकल्प पर क्लिक करना है |
किसान प्रीमियम पेमेंट मॉड्यूल देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी
  • इस प्रकार आप अपना पेमेंट मॉड्यूल देख सकते हैं
  • आप इसे डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं।

Kisan Rath App डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अपने मोबाइल फोन के प्ले स्टोर में जाना है।
  • प्लेस्टोर में जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • यहां आपको सर्च बॉक्स में Kisan Rath App दर्ज करना है
  • दर्ज करने के बाद आपके सामने विकल्पों की सूची खुलकर आएगी
  • इसमें से आप को सबसे ऊपर वाले विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको Install के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आपके मोबाइल मैं यह ऐप डाउनलोड हो जाएगी।

फीडबैक दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको Feedback के विकल्प पर क्लिक करना है।
फीडबैक दर्ज करने की प्रक्रिया
  • इस प्रकार आपके सामने फीडबैक फॉर्म खुलकर आएगा
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे Name, Mobile Number, Email ID तथा Captcha Code दर्ज करना है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार का फीडबैक दर्ज कर पाएंगे

लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Sign In के विकल्प पर क्लिक करना है।
लोगिन करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पोप अप खुलकर आएगा।
  • यहां पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • Mobile Number
    • Password
    • Captcha Code
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Login के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप लॉग इन कर पाएंगे।

सीएससी लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको CSC के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको CSC Login के विकल्प पर क्लिक करना है।
सीएससी लोगिन करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक लॉगइन पेज खुल कर आएगा
  • यहां पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • Username
    • Password
    • Captcha Code
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Sign in के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप सीएससी लॉगइन कर पाएंगे।

सीएससी सेंटर खोजने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको CSC के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको CSC Locator के विकल्प पर क्लिक करना है।
सीएससी सेंटर खोजने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • State
    • District
    • Sub District
    • VLE address
    • Captcha code
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Search के बटन पर क्लिक करना है।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Dashboard के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Dashboard के विकल्प पर क्लिक करना है।
डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको संबंधित डैशबोर्ड प्राप्त हो जाएगा।

स्टेटिस्टिक्स देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Dashboard के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Coverage Data के विकल्प पर क्लिक करना है।
स्टेटिस्टिक्स देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको स्टैटिसटिक्स प्राप्त हो जाएंगी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम करने की प्रक्रिया

यदि किसी किसान की फसल को नुकसान पहुंचा है तो वह नीचे दी गई प्रक्रिया के माध्यम से बीमा राशि का क्लेम कर सकते हैं

  • सर्वप्रथम किसान को अपनी फसल के नुकसान के बारे में जानकारी इंश्योरेंस कंपनी बैंक या फिर राज्य सरकार अधिकारी को देनी होगी
  • किसान द्वारा यह जानकारी टोल फ्री नंबर पर संपर्क करके भी प्रदान की जा सकती है
  • यदि आपने इंश्योरेंस कंपनी के अलावा किसी और को जानकारी दी है तो यह सुनिश्चित करना होगा कि जल्द से जल्द यह जानकारी इंश्योरेंस कंपनी तक पहुंच जाए
  • इंश्योरेंस कंपनी तक जानकारी पहुंचने के बाद 72 घंटे के भीतर ही नुकसान निर्धारणकरता नियुक्त करेगी
  • अगले 10 दिन के भीतर ही आप की फसल को पहुंचे नुकसान का आकलन किया जाएगा
  • यह प्रक्रिया सफलतापूर्वक हो जाने के 15 दिन के भीतर ही राशि आपके खाते में प्रदान की जाएगी

शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आप योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाये। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • इस होम पेज पर आप Technical Grievance के लिंक पर क्लिक करे।  लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज खुलकर आ जायेगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) 2021: Fasal Bima Yojana ऑनलाइन फॉर्म
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर , ईमेल आईडी , और कमैंट्स को दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह आपके द्वारा की गयी शिकायत दर्ज हो जायेगा।

फसल बीमा योजना हेल्पलाइन नंबर

इस योजना के तहत देश के बहुत से किसान जुड़ते है। जिससे उन्हें इस योजना के तहत काफी सहायता मिल सके। केंद्र सरकार ने किसानो को और अधिक सुविधा प्रदान  करने के लिए हेल्पलाइन नंबर 18001801551 को शुरू किया है  अगर देश के किसी किसान को अपने फसल को लेकर कोई परेशानी है जैसे भारी बारिश, सूखा  आदि से काफी नुकसान हुआ है तो वह 72 घंटे में शिकायत स्थानीय कृषि कार्यालय किसान हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करानी होगी। अगर किसी किसान को कोई परेशानी है तो वह वह इस हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते है।

Helpline Number

  • Phone Number- 011-2338-2012
  • Helpline Number- 011-2338-1092

योजना के अंतर्गत आने वाली बीमा कंपनियों के टोल फ्री नंबर

इन्शुरेंस कंपनी का नामटोल फ्री नंबर
एग्रिकल्चर इन्शुरेंस कंपनी1800 116 515
बजाज आलियंज इन्शुरेंस कंपनी1800 209 5959
भारती एक्सा जनरल इन्शुरेंस कंपनी1800 103 7712
चोलामंडलम MS जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 200 5544
फ्युचर जनराली इंडिया इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 266 4141
एचडीएफ़सी एर्गों जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 266 0700
आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 266 9725
इफको टोकियो जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 103 5490
नेशनल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 200 7710
न्यू इंडिया एशुरेंस कंपनी1800 209 1415
ओरिएंटल इन्शुरेंस1800 118 485
रिलायंस जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 102 4088 / 1800 300 24088
रॉयल सुंदरम जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 568 9999
एसबीआई जनरल इन्शुरेंस1800 123 2310
श्रीराम जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 3000 0000 / 1800 103 3009
टाटा एआईजी जनरल इन्शुरेंस कंपनी लिमिटेड1800 209 3536
यूनाइटेड इंडिया इन्शुरेंस कंपनी1800 4253 3333
यूनिवर्सल जनरल इन्शुरेंस कंपनी1800 200 5142  

Conclusion

उम्मीद करती हूं दोस्तों क्या आपको इस आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है अथवा उसमें कैसे पंजीकरण करवाया जाता है। आगे भी इसी तरह आपको और स्कीम्स के बारे में जानकारी प्रदान करती रहूंगी। अगर आपको कोई भी कठिनाई आती है। इस योजना से जुड़ी तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a Comment