उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2023- Saubhagyavati Yojana ऑनलाइन आवेदन

Uttarakhand Saubhagyavati Yojana Apply | उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना ऑनलाइन आवेदन | उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना आवेदन फॉर्म | Saubhagyavati Yojana In Hindi | दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2023 में रजिस्ट्रेशन कैसे कराएं इसके बारे में बता रहे हैं इस योजना को उत्तराखंड राज्य के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गर्भवती महिलाओं और उनके नवजात शिशु के लिए शुरू किया है जिससे मां तथा शिशु दोनों को लाभ पहुंचेगा इसके लिए मुख्यमंत्री ने 2 किटो का इंतजाम किया है एक किट मां के लिए और दूसरे नवजात बच्चे के लिए तैयार की गई है जिससे मां तथा बच्चे दोनों को लाभ पहुंचेगा  इस किट में बच्चे के लिए जहां कपड़े और साफ-सफाई का सामान होगा वही मां की किट में कपड़े तरह खाने-पीने का पौष्टिक आहार भी दिया जाएगा।

Uttarakhand Saubhagyavati Yojana

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना की घोषणा राज्य के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने की है इसके अंतर्गत मां तथा नवजात बच्चों के लिए अलग-अलग फिट का इंतजाम किया गया है। मां तथा बच्चों के लिए मौसम के हिसाब से अलग-अलग तरह के कपड़े और बच्चों के लिए पौष्टिक आहार दिया जाएगा जिससे मां तथा नवजात बच्चों की सेहत बेहतर हो सके और उन्हें किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़ेगा जो गरीब लोग इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें ऑनलाइन पंजीकरण कराना पड़ेगा उन्हें किसी सरकारी दफ्तर में चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के बाद सरकारी कर्मचारियों खुद उनकी सहायता के लिए आएंगे यह योजना सिर्फ गरीब परिवारों के लिए है इसमें इनकम टैक्स देने वाले और सरकारी कर्मचारी लोग शामिल नहीं होंगे।

(रजिस्ट्रेशन) उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021- Saubhagyavati Yojana ऑनलाइन आवेदन

जननी सुरक्षा योजना 

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के उद्देश्य

खास तौर पर गरीब परिवारों में गर्भवती महिलाओं को उचित खानपान और पौष्टिक आहार नहीं मिल पाता इसी कारण नव शिशुओ मैं कुपोषण की समस्या उत्पन्न हो जाती है। और बच्चों की पैदाइश के बाद भी उनमें कमजोरी बनी रहती है इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस योजना का शुभारंभ किया है ताकि गरीब परिवार की महिलाओं को उचित खानपान और स्वच्छता के हिसाब से कपड़े नवजात शिशु के लिए भी स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा गया है Saubhagyavati Yojana का उद्देश्य मां और बच्चे की स्वच्छता और खानपान पोस्टिक आहार का पूरा ध्यान रखा जा सके इसीलिए इन दोनों की अलग-अलग कीटों का इंतजाम किया गया है।

Saubhagyavati Yojana In Highlights

योजना का नामउत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2023
घोषणामुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत
आरंभ तिथि10 नवंबर 2020
लाभगर्भवती महिलाएं तथा नवजात शिशु
उद्देश्यमौसम के अनुसार कपड़े और पौष्टिक आहार प्रदान करना

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के लाभ

  • उत्तराखंड की गरीब गर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु ही इस योजना का लाभ उठा पाएंगे।
  • इस योजना के शुरू होने से गरीब परिवारों की गर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु की बेहतर देखभाल हो पाएगी।
  • मां तथा बच्चों की किट में मौसम के अनुसार कपड़े साफ सफाई का सामान और उचित पौष्टिक आहार दिया जाएगा।
  • योजना के शुरू होने से मां तथा बच्चे की मृत्यु दर में कमी आएगी।

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना में गर्भवती महिलाओं की किट में आवश्यक सामग्री

गर्भवती महिलाओं को जो सामान दिया जाएगा उसकी लिस्ट हम आपको नीचे बता रहे हैं जो निम्नलिखित हैं।

  • उचित पौष्टिक आहार के लिए सूखी खुबानी, अखरोट, 250 बादाम की गिरी और 500 ग्राम छुहारे दिए जाएंगे। 
  • नारियल तिल सरसों और चुलू का तेल भी शामिल होगा।
  • ठंड के मौसम के हिसाब से एक गर्म साल एक स्कार्फ और दो जोड़े गर्म कपड़े दिए जाएंगे जिन में जुराबे भी शामिल होंगी।
  • दो पैकेट सेनेटरी नैपकिन एक बड़ी  तौलिया 2 जोड़ें बेड शीट कवर जिनमें तकिए के कवर भी शामिल होंगे।
  • दो नहाने का साबुन दो कपड़े धोने का साबुन और एक हैंड वॉश लिक्विड भी दिया जाएगा।

Saubhagyavati Yojana में नवजात बच्चों के किट में आवश्यक सामग्री

नवजात शिशु को जो सामान दिया जाएगा उनकी लिस्ट निम्नलिखित है।

  • सूती और गर्म कपड़े मौसम के हिसाब से, मौजे और एक पैकेट डायपर का जिस मैं 10 डायपर होंगे।
  • बच्चे का कैप एक सॉफ्ट तोलिया एक पाउडर और तीन बेबी सोप भी शामिल होंगे।
  • सारा सामान रखने के लिए एक बैग एक कंबल और एक रबड़ शीट भी होगी।

योजना के लिए पात्रता

  • माता बच्चे का उत्तराखंड का निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ केवल गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशु ही उठा पाएंगे।
  • जो गर्भवती महिलाएं 18 साल की उम्र से ऊपर होंगी उन्हें ही इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • इनकम टैक्स देने वाली और सरकारी कर्मचारी इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे।

योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र 
  • आधार कार्ड 
  • पहचान पत्र 
  • गर्भवती महिलाओं का आयु प्रमाण पत्र 
  • आय प्रमाण पत्र 
  • हाईस्कूल की मार्कशीट/ जन्म प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर 
  • बैंक अकाउंट पासबुक 
  • तीन पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस योजना की अभी घोषणा की है अभी इस योजना को अमल में नहीं लाया गया है इस योजना को जल्द ही शुरू किया जाएगा और जैसे ही इसकी कोई आधिकारिक वेबसाइट बनती है हम आपको जल्दी ही सूचित करेंगे ताकि उत्तराखंड में रहने वाली गरीब गर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु इस योजना का लाभ उठा सकें |

Leave a Comment