|Gehu Kharid| यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2021- eproc.up.gov.in ई-क्रय प्रणाली

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Utter Pradesh Gehu Kharid Online Registration at eproc.up.gov.in | यूपी गेहूं खरीद ई-क्रय प्रणाली | UP Gehu Kharid Online |

उत्तर प्रदेश के किसानों को अपनी फसल बेच ताथा गेहूं खरीद जैसी सुविधाएं ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को आरंभ किया गया है। इस पोर्टल पर पहले किसानों को अपना पंजीकरण करवाना होगा पंजीकरण करवाने के बाद वह अपनी रबी की फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेच सकते हैं तथा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जैसे इसका उद्देश्य क्या है इसके लाभ क्या है इस पर उपलब्ध सुविधाएं कौन-कौन सी हैं तथा इसमें आवेदन की प्रक्रिया क्या है। Gehu Kharid Portal से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आप से निवेदन है कि हमारे इस लेख को विस्तार से पढ़ें

eproc.up.gov.in Gehu Kharid Portal

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा गेहूं खरीद का निर्देश जारी कर दिया गया है उनके द्वारा कहा गया है कि क्रय केंद्र पर किसानों को समस्या नहीं होनी चाहिए और इसके लिए सरकार द्वारा हर जगह गेहूं की सुरक्षा के लिए काफी इंतजाम किए गए हैं। मुख्यमंत्री द्वारा कहा गया है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 50 रुपये की बढ़ोतरी की जाएगी तथा इस बढ़ोतरी के बाद गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 क्विंटल तय किया गया है जिससे किसानों की आय में वृद्धि होगी तथा वह एमएसपी का लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे। राज्य के जो भी किसान अपनी फसल को बेचना चाहते हैं तो उन्हें ई क्रय प्रणाली के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा वहां जाकर वह अपना पंजीकरण करवा सकते हैं तथा यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Central Government Scheme 2021

यूपी गेहूं खरीद के मुख्य तथ्य

योजना का नामयूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
किसके द्वारा शुरू कि गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
विभागकृषि विभाग
योजना का उद्देश्यकिसानों की फसलें समय से बेच कर लाभ प्राप्त करना
योजना का लाभकिसान ऑनलाइन माध्यम से अपनी फसल बेच सकते हैं
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन आवेदन
अधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें

यूपी गेहूं खरीद का उद्देश्य

जैसे कि हम सब जानते हैं राज्य के किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और ऐसे में उनकी फसल का समय खत्म हो जाता है इसी कठिनाई को मद्देनजर रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी गेहूं खरीद पोर्टल को आरंभ किया गया है इस के माध्यम से राज्य के किसान अपनी फसल आसानी से खरीद व बेच सकेंगे। जिससे वह अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकेंगे तथा मिलने वाली धनराशि सीधा लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में ही ट्रांसफर की जाएगी।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

ऑनलाइन पर्ची की सुविधा

उत्तर प्रदेश के प्रिय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 29 जनवरी 2021 शुक्रवार के दिन गेहूं खरीद संबंधित समस्याओं एवं प्रस्तावित कार्य नीति के संबंध में बैठक के दौरान घोषणा की गई कि किसानों को ऑनलाइन पर्ची की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी जिसके माध्यम से यह वह एजेंसियों का रिकॉर्ड ठीक प्रकार से रख सकेंगे। उनके द्वारा कहा गया कि नवीन नीति तय करते समय ध्यान रखें कि ऐसे कार्य एजेंसी जिसका रिकॉर्ड ठीक नहीं है उसे काम ना दिया जाए तथा इस समस्या को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया गया कि भंडारण गोदाम सहित सभी क्रय केंद्रों की जियो टैगिंग कराई जाएगी जिससे किसानों को विभिन्न प्रकार की सुविधा प्राप्त होगी।

Up Govt Scheme 2021

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा दिशा निर्देश

  • मुख्यमंत्री द्वारा पारदर्शिता के लिए हिपहॉप मशीन के माध्यम से बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन लागू किए गए हैं।
  • अब से क्रय केंद्र पर गेहूं खरीद की व्यवस्था बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन से की जाएगी।
  • इस वर्ष बटाईदारों से भी गेहूं खरीदा जाएगा।
  • किसानों की सुविधा के लिए क्रय केंद्रों के पथ प्रदर्शन चिन्ह लगाए जाएंगे।
  • ग्राम पंचायतों में क्रय केंद्रों की सूचना वाली वोल पेंटिंग कराई जाएगी।
यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

क्रय केंद्र पर उपलब्ध उपकरण

बैठक के दौरान प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद विनय कुमारी ने मुख्यमंत्री जी को कुछ प्रस्तुतीकरण भी दिए जिस पर हमारे मुख्यमंत्री जी ने सुझाव देते हुए कहा कि क्रय केंद्र पर अब कुछ उपकरण उपलब्ध करवाई जाएंगे जैसे इलेक्ट्रॉनिक कांटा नवी मापक यंत्र विनोइंग फैन तथा डबल जाली का छलना। जिससे किसानों को अपनी फसल बेचने में काफी मदद प्राप्त होगी। सीएम योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा कहा गया कि यह उपकरण लगभग 10 मार्च तक उपलब्ध कराए जाएंगे। इससे काम में पारदर्शिता आएगी तथा किसान गेहूं खरीद व बेच की प्रक्रिया आसानी से कर सकेंगे।

गेहूं बेचने व खरीदने में पारदर्शिता

सीएम योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा गया कि क्या केंद्रों पर पारदर्शिता के साथ गेहूं बेचने व खरीदने जाएंगे तथा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि किसानों को अपनी फसल बेचने में कोई असुविधा प्राप्त ना हो तथा उन्हें भुगतान समय से हो सके। उन्होंने साथ-साथ यह सुनिश्चित किया कि अप्रैल से मई के बीच गर्मी का मौसम होगा और बारिश की संभावना होगी ऐसे में क्या केंद्रों पर छाजन पेयजल तथा बैठने की सुविधा भी उपलब्ध होनी चाहिए।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

ई क्रय प्रणाली के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस पोर्टल को माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा शुरू किया गया है।
  • इस पोर्टल का उपयोग करके किसान अपनी फसल आसानी से खरीद व बेच सकेंगे।
  • मंडियों में अपनी फसल ले जाने से पहले सभी किसानों को ऊपर जन पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर टोकन प्राप्त करना होगा।
  • पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष गेहूं खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य 50 रुपये से बढ़ाकर 1975 रुपये कर दिया गया है।
  • ई क्रय प्रणाली पर किसानों को ऑनलाइन पर्ची की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी जिसके माध्यम से वह क्रय केंद्रों के रिकॉर्ड रख सकेंगे।
  • भंडारण गोदाम सहित सभी क्रय केंद्रों के जियो टैगिंग करवाई जाएगी जिससे वह अपने रिकॉर्ड ठीक रख सके।
  • इस पोर्टल पर ही पॉप मशीनों के माध्यम से बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद के लिए लागू कर दिया गया है।
  • इस सुविधा को और पारदर्शी बनाने के लिए केंद्रों के लिए पद प्रदर्शन चेंज लगाए जाने की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है।
  • अधिकारियों द्वारा के केंद्रों पर अप्रैल- मई के गर्मी के समय छाजन पेयजल तथा बैठने की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के समय कुछ दिशा निर्देश

  • आधार कार्ड बैंक पासबुक व राजस्व अभिलेखों का सही विवरण दर्ज करना अनिवार्य है
  • रजिस्ट्रेशन होने के बाद रजिस्ट्रेशन नंबर और उसका प्रिंट भविष्य के लिए सुरक्षित रख ले
  • रजिस्ट्रेशन में गेहूं के खेत का विवरण होना अनिवार्य है
  • मोबाइल नंबर देकर रजिस्ट्रेशन ड्राफ्ट द्वारा प्रिंट करवा सकते हैं।
  • मोबाइल नंबर का उपयोग करके पंजीकरण में संशोधन किया जा सकता है।
  • खेत के विवरण में खतौनी खसरा नंबर गेहूं का रकबा दर्ज करना आवश्यक है।
  • यदि आपका आवेदन लॉक नहीं किया गया है तो आप का रजिस्ट्रेशन अस्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • 100 क्विंटल से अधिक गेहूं की बिक्री के लिए एसडीएम से सत्यापन करवाना जरूरी है।
  • किसान के रजिस्ट्रेशन की पूरी जानकारी उनके मोबाइल नंबर पर भेजी जाएगी।
यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

आवेदन के लिए पात्रता एवं दस्तावेज

  • किसानों को अपनी जमीन से संबंधित जानकारी जैसे खसरा खतौनी खसरा संख्या तथा जमीन का रखवा देना अनिवार्य है
  • खेत का राजस्व अभिलेख से संबंधित जानकारी देनी अनिवार्य है
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस पोर्टल के अंतर्गत आवेदन करवाना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

ई क्रय प्रणाली के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया
ई क्रय प्रणाली के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको 6 स्टेप दिखाई देंगे जिन्हें आपको एक के बाद एक दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको पंजीकरण प्रपत्र पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में आपको अपना मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है
  • दर्ज करने के बाद आपको आगे बढ़ें के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे किसान का नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर, पिता/पति का नाम, तहसील, जनपद आदि दर्ज करना है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको पंजीकरण करें के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप का पंजीकरण हो जाएगा
यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

पंजीकरण प्रारूप करने की प्रक्रिया

राज्य का कोई भी किसान अपना पंजीकरण करवाने के बाद वह अपने आवेदन पत्र का प्रारूप देख सकता है उसके लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें

पंजीकरण प्रारूप करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पंजीकरण प्रारूप के विकल्प पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आपके सामने पंजीकरण प्रारूप की पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी
  • आप इसे ध्यान पूर्वक पढ़ सकते हैं तथा डाउनलोड भी कर सकते हैं

धान खरीद हेतु किसान पंजीकरण

धान खरीद हेतु किसान पंजीकरण
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको कुछ स्टेप्स दिखाई देंगे जिन्हें आपको एक के बाद एक भरना है।
  • पंजीकरण प्रपत्र के विकल्प पर क्लिक करें क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको किसान का मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है
  • दर्ज करने के बाद आपको आगे बढ़ने के बटन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे किसान का नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर, पिता/पति का नाम, तहसील, जनपद आदि दर्ज करना है
  • पूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको पंजीकरण करें के विकल्प पर क्लिक करना है।

मक्का खरीद हेतु किसान पंजीकरण

मक्का खरीद हेतु किसान पंजीकरण
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको सबसे पहले पंजीकरण प्रपत्र के विकल्प पर क्लिक करना है
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा
  • इस पेज पर आपको किसान का मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • कोड दर्ज करने के बाद आपको आगे बढ़ें के बटन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर, पिता का नाम, तहसील, जनपद आदि दर्ज करना है।
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको पंजीकरण करें के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार पंजीकरण हो जाएगा

Leave a Comment